breaking news New

गांजा तस्करी करने 18 लाख में लिया था मकान

गांजा तस्करी करने 18 लाख में लिया था मकान


खपरी में दबिश देकर एक मकान से नौ क्विंटल गांजा जब्त किया था

बिलासपुर, 13 जून। तखतपुर क्षेत्र के खपरी में दबिश देकर एक मकान से नौ क्विंटल गांजा जब्त किया है। इस कार्रवाई में स्विफ्ट कार सवार तस्कर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वह सब्जी परिवहन करने की आड़ में पिकअप में गांजे की तस्करी करता था।

आरोपित हरीश कुमार ने कुछ साल पहले खपरी में अपने परिचित से 18 लाख  में मकान लिया था। दरअसल उसने गांजा तस्करी का सुरक्षित अड्डा बनाने के लिए इस मकान को खरीदा था, जहां कोई नहीं रहता था। सिर्फ यहां अवैध कारोबार करने के लिए आता था। ग्रामीण क्षेत्र होने के कारण इस मकान में अवैध गतिविधियों पर किसी की नजर भी नहीं थी। यही वजह है कि वह बेखौफ होकर अवैध कारोबार को अंजाम देता रहा।

आरोपित युवक ने बताया कि वह सब्जी गाड़ी में गांजा तस्करी करता था। इसके चलते पुलिस को भी इसकी भनक नहीं लग रही थी। उससे पूछताछ के आधार पर पुलिस सब्जी गाड़ी के साथ गांजा लेकर आने वाले चालक उसके मालिक की जानकारी जुटाकर तलाश में जुट गई है।

आरोपित हरीश साहू जिस स्विफ्ट कार में घूमता था। उसमें स्काई अस्पताल कोविड-19 इमरजेंसी लिखा हुआ स्टीकर चिपका हुआ था। इस स्टीकर को देखकर पुलिस वाले भी उसकी गाड़ी को नहीं रोकते थे। वहीं इमरजेंसी सेवा की आड़ में आरोपित युवक अपना अवैध कारोबार भी चलता था।

पुलिस के अनुसार आरोपित हरीश कुमार साहू गांजा तस्करी करने के मामले में पहले भी जेल जा चुका है। पूर्व में सिटी कोतवाली पुलिस ने 2016 में उसे छह किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बाद में इस प्रकरण में उसे कोर्ट से दो साल की सजा भी सुनाई गई थी। जेल से छूटने के बाद वह फिर से गांजा तस्करी के अवैध कारोबार में जुट गया।