breaking news New

शीतलहर की चपेट में सुकमा,8-10डीग्री तापमान पे पारंपरिक अलाव से मुसाफिरो को राहत

शीतलहर की चपेट में सुकमा,8-10डीग्री तापमान पे पारंपरिक अलाव से मुसाफिरो को राहत


सुकमा। जिले में पिछले कुछ दिनों से कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पूरा जिला शीतलहर की चपेट में है। पिछले कुछ दिनों से जिले में तापमान 8-10 डिग्री के करीब पहुंच रहा है। वहीं दिन के मुकाबले रात्रि के समय तापमान में भी अधिक गिरावट होने लगी है। ऐसे समय मे नगर पालिका का जगह जगह अलाव जलाना शीत लहर से बचने के लिए कारगर साबित हो  रहा है कलेक्टर ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को अलाव जलाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। जिसके जिले के मुख्य चौक चौराहों और बस स्टैण्ड परिसर में आमजनों, यात्रियों व राहगिरों के लिए अलाव की व्यवस्था की जा रही है। 

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने शीतलहर के प्रभाव को देखते हुए सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी किया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने  कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में अलाव जलाने की और जरूरतमंदों को कंबल इत्यादि की व्यवस्था सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस बात का निर्देश दिया है की ठंड की वजह से नागरिकों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए।

मौसम विभाग के मुताबिक अभी कुछ दिन मौसम का मिजाज



मौसम का मिजाज कुछ दिन ऐसी ही रहने वाला है जिसके कारण लोगों को काफी ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है। इधर मौसम में आए बदलाव से ना सिर्फ लोगों को कंपकपाती ठंड का सामना करना पड़ रहा है, बल्कि मौसमी बीमारी का भी उन्हें सामना करना पड़ रहा है। आये दिन बुखार और सर्दी जुकाम के मरीज अस्पतालों में पहुंच रहे हैं। लिहाजा शीतलहर में सर्तकता जरूरी है।