breaking news New

सिंचाई का रकबा बढ़ाने कार्य योजना तैयार करें - कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला

सिंचाई का रकबा बढ़ाने  कार्य योजना तैयार करें - कलेक्टर  जितेंद्र कुमार शुक्ला

 जल संसाधन विभाग के अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश 

  सक्ती  / जांजगीर-चांपा, 11 जून। शुक्रवार को कलेक्टर  जितेंद्र कुमार शुक्ला ने आज जिला कार्यालय में जल संसाधन विभाग के अधिकारियों की बैठक में कहा कि जांजगीर-चांपा जिला कृषि प्रधान जिला है।  यहां के  सर्वाधिक कृषि रकबे में जल संसाधन विभाग के केनाल के माध्यम से सिंचाई होती है। जिले के किसानों ने धान उत्पादन में  कीर्तिमान स्थापित किया है।

 कलेक्टर ने कहा कि जिले में पदस्थ इंजीनियर अपने तकनीकी कौशल का उपयोग करते हुए कृषि रकबा बढ़ाने, टेल एरिया में सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने के लिए कार्य योजना तैयार करें। नहर की सफाई और  मरम्मत कार्य किसी भी कारण से लंबित न रहे। कलेक्टर ने कहा कि अपने वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन प्राप्त कर निविदा प्रक्रिया और अन्य कार्य समय पर पूर्ण करवाएं। उन्होंने कहा कि बिना उपयोग पानी के ब्यर्थ बहाव को रोकने, उपलब्ध पानी का समुचित और अधिकतम उपयोग के लिए सतत प्रयासरत रहें। उन्होंने कहा कि कोरबा जिले के  बांगो डेम में पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध रहता है।  किसानों की मांग के अनुरूप समय पर सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध हो, यह सुनिश्चित करें। जल संसाधन विभाग के अधिकारी और मैदानी अमला किसानों के सतत संपर्क में रहकर आधुनिक कृषि के लिए नए कार्य का प्रस्ताव तैयार करें। कलेक्टर ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्रों में नियमानुसार पानी की सप्लाई तथा उनसे वसूली को भी प्राथमिकता दें।  

बैठक में जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता,  एसडीओ उपस्थित थे।