breaking news New

" कौशल्या मातृत्व योजना" का क्रियान्वयन शुरू, पात्र लाभार्थी महिला को मिलेगा 5 हजार रुपए की सहायता

सक्ती।  राज्य शासन द्वारा प्रदेश में नवीन योजना "कौशल्या मातृत्व योजना" का क्रियान्वयन 01 जनवरी 2022 से प्रारंभ किये जाने का निर्णय लिया गया है। कौशल्या मातृत्व योजना का मुख्य उद्देश्य सामाजिक आर्थिक जनगणना में पात्र महिला हितग्राही की द्वितीय संतान बालिका के जन्म पर सहायता राशि प्रदान करना ताकि महिलाएं बच्चे के जन्म के बाद पर्याप्त विश्राम कर सके, माताएं स्वयं एवं बालिका के उत्तम स्वास्थ्य हेतु पर्याप्त ध्यान दे सके, बालिका भ्रूण हत्या रोकने और बालिकाओं के जन्म में प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना। गर्भावस्था, सुरक्षित प्रसव और स्तनपान की अवधि के दौरान उपयुक्त पद्वतियों देखरेख एवं सेवाओं के उपयोग को बढ़ावा देना है। योजनांतर्गत पात्र लाभार्थी महिला को निम्नानुसार शर्तें पूरी करने पर एकमुश्त कुल पांच हजार रूपये की राशि का लाभ दिया जाएगा। गर्भावस्था के दौरान कम से कम एक बार प्रसव पूर्व जाँच कराई हो। बच्चे का जन्म का पंजीकरण कराया गया हो। योजना के संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, पर्यवेक्षक, परियोजना अधिकारी से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते है।