breaking news New

स्वजनों का ख्याल रखते हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन कर सकी - दिव्या वैष्णव

स्वजनों का ख्याल रखते हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन कर सकी - दिव्या वैष्णव

रायपुर। कोरोना ने हर तबके के लोगों को संक्रमण के चपेट में ले लिया है साथ ही हर वर्ग के लोगों को प्रभावित भी किया है। वहीं राज्य राजस्व सेवा छत्तीसगढ़ की अधिकारी दिव्या वैष्णव भी एक ऐसी ही अधिकारी हैं, जो वर्तमान में राज्य के गृहमंत्री की ओएसडी हैं। उनका परिवार भी इस कोरोना की चपेट में आया। डिप्टी कलेक्टर दिव्या वैष्णव ने बताया कि 15 अप्रैल 2021 को मेरे 68 वर्षीय पिता कृष्ण दास वैष्णव, 65 वर्षीय माता विमल वैष्णव और बड़ी बहन कविता वैष्णव उम्र- 38 वर्ष कोविड टेस्ट में पॉजिटिव आए।

हम सभी बहुत चिंतित थे क्योंकि उस समय रायपुर जिला कोरोना के भयावह संक्रमण से गुजर रहा था। मैंने पखवाड़ेभर पहले ही कोरोना का टीका लगवाया था।

लगातार 17 दिनों तक मुंह से मास्क नहीं निकाला। अपने कर्तव्य के निर्वहन के साथ ही स्वजनों की देखभाल की जिम्मेदारी भी थी। माता-पिता, बहन को निरंतर गर्म भोजन, गुनगुना पानी, भाप और अंकुरित मूग खिलाई। आज सभी स्वस्थ हो गए हैं।

मेरी बात डॉ. अंजली शर्मा नायाब तहसीलदार एवं नोडल होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम रायपुर से हुई। उन्होंने बहुत सरल तरीके से रायपुर में संचालित कंट्रोल रूम के बारे में तथा होम आइसोलेशन रजिस्ट्रेशन लिंक के बारे में जानकारी दी। होम आइसोलेशन की टीम लगातार हम सभी के साथ संपर्क करती रही। नगर निगम जोन क्रमांक छह की अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने हर संभव सहायता की।

होम आइसोलेशन वेब लिंक के माध्यम से हमें डॉ. निलय मोझरकर असाइन हुए। उन्होंने बहुत अच्छे से पूरे परिवार की चिकित्सकीय देखभाल की। होम आइसोलेशन अवधि के 17 दिन वे सभी स्वस्थ हैं। कोई चिकित्सकीय शिकायत नहीं है। इसका श्रेय होम आइसोलेशन रायपुर की पूरी टीम को जाता है।

दिव्या वैष्णव ने कहा कि मैं होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम रायपुर की पूरी टीम, नगर निगम रायपुर जोन छह के अधिकारी-कर्मचारियों और कार्यालय मंत्री गृह, लोक निर्माण पर्यटन, धर्मस्व के समस्त अधिकारी कर्मचारियों का हृदय से धन्यवाद करती हूं। इस विपरीत समय मे मेरे कार्यालय के स्टाफ ने मेरी हर संभव सहायता की, जिसकी वजह से मैं स्वजनों का ख्याल रखते हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन कर सकी।