breaking news New

प्रधानमंत्री मोदी को फोन पर जान से मारने की धमकी, आरोपी गिरफ्तार

प्रधानमंत्री मोदी को फोन पर जान से मारने की धमकी, आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की गुरुवार को उस समय नींद उड़ गई, जब पुलिस को कॉल कर एक शख्स ने प्रधानमंत्री मोदी को मारने की धमकी दी। तत्काल पुलिस की सारी यूनिट सक्रिय हो गई और कॉलर को ट्रेस करना शुरू किया गया। कुछ ही देर में पुलिस कॉलर तक पहुंच गई और उसे दबोच लिया। जब पुलिस ने उसे पकड़ा तो पता चला कि उक्त शख्स शराब के नशे में था और नशे में ही उसने पुलिस को कॉल कर दिया था। आरोपी की पहचान नितिन के तौर पर की गई है, जो दक्षिणपुरी इलाके का रहने वाला है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें कॉल मिली थी, जिसमें कॉलर ने बताया था कि वह दक्षिणपुरी इलाके के ब्लॉक-18 में स्थित मकान संख्या-198 से बोल रहा है और वह मोदीजी की हत्या कर देगा। जिसके बाद तत्काल अम्बेडकर नगर थाने की पुलिस टीम सक्रिय हो गई और कॉलर को ट्रेस कर गिरफ्तार कर लिया। आरोपी शख्स पूरी तरह से नशे में था और नशे में ही उसने फोन किया था। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

सीएम योगी को दो बार मिल चुकी है धमकी

प्रधानमंत्री मोदी से पहले यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को दो बार फोन पर जान से मारने की धमकी मिल चुकी है। अभी चार दिन पहले ही डायल 112 पर जान से मारने की धमकी भरा मैसेज आया था। इसके बाद पुलिस अलर्ट हो गई और आरोपी की तलाश में जुट गई। धमकी देने वालो आरोपी नाबालिग था, जिसने मैसेज में अपशब्दों का प्रयोग किया था। पुलिस ने आरोपी को सुशांत गोल्फ सिटी थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।  उसके पास मोबाइल और सिम बरामद कर लिया। पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपी को बाल सुधार गृह भेज दिया।

आपको बता दें कि इससे पहले भी 21 मई को सीएम योगी को जान से मारने की धमकी मिली थी। यह धमकी भी यूपी पुलिस के 112 मुख्यालय में एक वॉट्सएप मैसेज के जरिए मिली थी। मैसेज में लिखा है कि 'सीएम योगी को मैं बम से मारने वाला हूं। वह (एक खास समुदाय का नाम लिखा) की जान का दुश्मन है।' आरोपी कमरान को पुलिस ने चंद घंटों में गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी कामरान की गिरफ्तारी के बाद यूपी पुलिस की सोशल मीडिया हेल्प डेस्क को एक और धमकी मिली थी। इस मैसेज में मुंबई से गिरफ्तार किए गए कामरान को छोड़ने और ऐसा न करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। यूपी एटीएस ने इसकी जानकारी महाराष्ट्र एटीएस के साथ साझा की। इसके बाद महाराष्ट्र एटीएस ने जानकारी के बाद 20 साल के फैसल को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस के मुताबिक यह दारुसलम कॉलोनी, मदीना चौक, नासिक का रहने वाला था।