breaking news New

भाजपा के नेता धान खरीदी को लेकर कर रहे षड्यंत्र : कांग्रेस

भाजपा के नेता धान खरीदी को लेकर कर रहे षड्यंत्र : कांग्रेस

राज्य सरकार की धान खरीदी को लेकर गलत बयानबाजी कर रही है भाजपा

केन्द्र सरकार 60 लाख मैट्रिक टन चांवल खरीदी का वादा कर 24 लाख मैट्रिक टन ही चांवल खरीद रही है

नारायणपुर - छत्तीसगढ़ राज्य की भूपेश बघेल सरकार किसानों की हितैषी बनकर लगातार किसानों की आय को दुगना करना चाह रही है और इसी मंशा से किसानों के लिए अच्छा काम कर रही है जिससे किसान भी खुश और गदगद हैं जिसे भाजपा नेता पचा नहीं पा रहे हैं। राज्य की कांग्रेस सरकार राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से किसानों को प्रति एकड़ 10000 रूपये सहायता राशि दे रही है, उस राशि को राज्य के भाजपा नेता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ग़लत तरीके से पेश कर गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं जब कांग्रेस सरकार किसानों को प्रति एकड़ 10000  रूपये सहायता राशि दे रही तो  इससे भाजपा को तकलीफ क्यो है।  

धान खरीदी को लेकर झूठा प्रचार कर रही भाजपा : रजनू नेताम

धान खरीदी पर भाजपा के नेता लगातार झूठ का सहारा ले रहे है। किसानों के हित में ठोस काम करने वाली कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा अभी से झूठ का प्रचार करने लगी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने किसानों और धान का सम्मान किया है। कांग्रेस सरकार ने पहले साल में 80 लाख टन से अधिक और दूसरे साल में 83 लाख टन धान की खरीदी की है। भाजपा की 15 साल की सरकार ने तो 15 लाख से भी कम किसानों से औसत 50 लाख टन धान ही प्रतिवर्ष खरीदा गया। इस साल 21 लाख 50 हजार से अधिक किसानों का पंजीयन हो चुका है। कांग्रेस सरकार ने किसानों का कर्ज माफ किया, जो भाजपा ने कभी नही सोचा था।

छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा का दोहरा चरित्र जान चुकी है –देवनाथ उसेंडी 

भाजपा जनता की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश कर रही है। छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा के किसान विरोधी, गरीब विरोधी, मजदूर विरोधी चरित्र को बखूबी समझ चुकी है। भाजपा ने कहा था कि 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करेंगे, लेकिन अभी तक किसानों की आय बढ़ाने के लिए कुछ भी नही किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार के किसान हितैषी कार्यों से छत्तीसगढ़ के किसान खुशहाल है। कर्ज माफी का लाभ 20 लाख किसान परिवारों को मिला है। तत्कालीन रमन सरकार ने किसानों के साथ वादा खिलाफी और दगाबाजी की, जिससे किसान अपने खेत खलिहान, पशुधन और स्त्रीधन को बेचने पर मजबूर हो गए थे।

छत्तीसगढ़ के नेता धान खरीदी को बाधित करने का षड़यंत्र कर रहे : शिवकुमार पांडे

रमन सरकार की कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार के चलते ही छत्तीसगढ़ के खजाने पर 41 हजार करोड़ रुपये का कर्जभार चढ़ा। जिसका ब्याज अभी की भूपेश सरकार चुका रही है। पिछले 15 दिनों से जो घटनाक्रम बयानबाजी विशेषकर भाजपा नेताओं की चल रही है, उससे एक बात तो स्पष्ट हो जाती है कि भाजपा के छत्तीसगढ़ के नेता राज्य की धान खरीदी को बाधित करने का षणयंत्र रच रहे है। भाजपा की केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ भाजपा के नेताओं के मंशा के अनुरूप धान खरीदी पर तमाम तरीके की अड़ेंगेबाजी लगा रही है।

भाजपा प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी कर रही गलत बयान बाजी : रवि देवांगन

प्रदेश प्रभारी पुरंदेश्वरी पर भी धान खरीदी पर गलत बयानबाजी करने का आरोप लगाया है। उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि भाजपा प्रभारी पुरंदेश्वरी को छत्तीसगढ़ के किसानों की भलाई चाहती है, आर्थिक रूप से सक्षम बनाने का विचार अगर रखती है तो भाजपा के 9 सांसदों, 2 राज्यसभा सदस्यों और भाजपा के 1 विधायक को लेकर दिल्ली जाएं तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से छत्तीसगढ़ के किसानों से प्रति एकड़ 25 क्विंटल धान खरीदी के अनुपात में चावल लेने की अनुमति लेकर आएं।

इस दौरान मौजूद रहे

इस मौके पर पीसीसी सदस्य राजेश दीवान, शहर कांग्रेस अध्यक्ष रघु मानिकपुरी, युवा कांग्रेस अध्यक्ष अमित भद्र, जनपद पंचायत अध्यक्ष पंडी राम वड़डे, सासद प्रतिनिधि अजय देशमुख, वरिष्ठ कांग्रेसी जेपी देवांगन, मैनू कुमेटी,  राजू वड़दा दीपक गांधी आदि उपस्थित थे