breaking news New

गांधी परिवार को देश के किसानों से कुछ नहीं लेना फिर भी राहुल फैला रहे भ्रम : संबित पात्रा

 गांधी परिवार को देश के किसानों से कुछ नहीं लेना फिर भी राहुल फैला रहे भ्रम  : संबित पात्रा

दिल्ली  । राहुल गांधी के बयान को लेकर बीजेपी नेता पात्रा ने राहुल गांधी पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि गांधी परिवार को ना किसान और ना ही आम जनता के किसी भी दुख दर्द से मतलब है। गांधी परिवार और राहुल गांधी को केवल और केवल अपने परिवार की नैया भवर में न  डूबे इसकी चिंता रहती है। लखीमपुर में जो भी हुआ वह बहुत ही निंदनीय है। लखीमपुर घटना को लेकर वहां के प्रशासन और किसान के बीच बातचीत हुई और दोनों पक्षों ने मिलकर यह निर्णय लिया एक निष्पक्ष जांच की जाए ।

जब तक जांच हो रही है तब तक हम सभी राजनीतिक दलों का यह कर्तव्य बनता है कि किसी भी धर्म जाल को ना फैलाया जाए और ऐसा कोई बयान न दिया जाए जिससे किसी प्रकार की हिंसा हो। राहुल गांधी जी इस बार भी पिछली बार की तरह गैर जिम्मेवार बयान दिया।

राहुल गांधी जी को यह सोचना चाहिए कि उनका बयान कहीं किसी निर्दोष पर भारी न पड़ जाए। राहुल गांधी जी ने आज बोला कि लोकतंत्र नहीं तानाशाह का राज है तो मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि यह आम जनता का राज्य है ना कि कांग्रेस की तरह कपिल सिब्बल ने मात्र कांग्रेस अध्यक्ष पद की चुनाव हो और कांग्रेस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए उसी को लेकर खुद कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ही उनके घर पर टमाटर और  विरोध प्रदर्शन किया राहुल जी यह बताएं कि यह लोकतंत्र है जो अपनी ही पार्टी में आवाज उठाने पर उन्हें दबाने के लिए ऐसा विरोध झेलना पड़ता है ।

राहुल जी यह लोकतंत्र ही हैं इसकी वजह से आप भारत के प्रधानमंत्री से सवाल या उनके बारे में अवधी भाषा का भी प्रयोग कर लेते हैं और आप पर कुछ नहीं होता वोट जब सवाल पूछती है तो माफी भी मांग लेते हैं लेकिन हम लोग आपका कोई विरोध नहीं करते। भाजपा जो आज बयान दियासंबित पात्रा ने तंज कसते हुए कहा कि क्या राहुल फोरेंसिक विशेषज्ञ हैं।

लखीमपुरखीरी की घटना की आड़ में राजनीति करने का आरोप लगाया।भूमि अधिग्रहण पे रॉबर्ट वाड्रा को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि इससे ज्यादा हास्यास्पद और क्या हो सकता है।