breaking news New

कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण की सुरक्षा को देखते हुए शासन के दिशा-निर्देशों को पालन करने के दिये सख्त निर्देश

कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण की सुरक्षा को देखते हुए शासन के दिशा-निर्देशों को पालन करने के दिये सख्त निर्देश

जशपुरनगर, 7 अप्रैल। कलेक्टर महादेव कावरे ने आज कोरोना संक्रमण की सुरक्षा को देखते हुए कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में स्वास्थ्य विभाग, नगरीय निकाय के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि लोगों को संक्रमण से बचने के लिए सभी को जागरूक करें। इस अवसर पर वनमण्डलाधिकारी कृष्ण जाधव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के.एस.मण्डावी, जशपुर एसडीएम सुश्री आकांक्षा त्रिपाठी, नगरपालिका अधिकारी बसंत बुनकर और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पी. सुथार उपस्थित थे।

कलेक्टर ने कांटेक्ट ट्रेसिंग की टीम को गंभीरता से कार्य करने के निर्देश दिये हैं। उन्होनें कहा कि जिले में शामं 6ः00 बजे से सुबह के 6ः00 बजे तक रात्रिकालीन कफ्र्यू लगाया है जिसका पालन अनिवार्य रूप से करने के लिए कहा गया है, साथ ही पार्किंग के लिए रणजीता स्टेडियम और पुराना बस स्टैण्ड दो जगह पर व्यवस्था कर दी गई है और बस को उसी अनुसार पार्किंग स्थल पर खड़ा करने के लिए कहा गया है। इसी तरह सब्जी बाजार के लिए भी 04 जगह चिन्हांकन करके बता दिया गया है।

कलेक्टर ने समीक्षा के दौरान जिले में पॉजिटिव और एक्टिव केसों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सुरक्षा को देखते हुए सभी लोग कोरोना मापदंडों का गंभीरता से पालन करें, मास्क लगाये और 02 गज की दूरी बनाये रखें। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को प्रत्येक ब्लॉक में 100 बेड के आइसोलेशन सेंटर को तैयार करने के निर्देश दिये हैं। सेंटर में मरीजों के लिए सभी बुनियादी सुविधाएं शत प्रतिशत सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

उन्होंने कहा कि 60 वर्ष के अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को पॉजिटिव आते हैं तो कोविड-19 केयर सेंटर में रखने के लिए कहा गया है, साथ ही जिले के जितने कोविड केयर सेंटर में बेड निर्धारित की गई है वहां मरीजों को रखकर इलाज करने के लिए कहा गया है। होम आइसोलेशन की सुविधा विशेष परिस्थिति में ही देने के लिए कहा गया है। अन्यथा कोविड-19 केयर सेंटर में रखकर ही ईलाज करने के निर्देश दिये हैं।

उन्होंने टीकाकरण के प्रगति की भी जानकारी ली और टीकाकरण केन्द्र में प्राथमिकता से वैक्सीन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। 45 वर्ष के आयु वाले सभी लोगों का टीकाकरण करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि जिले में 230 टीकाकरण केन्द्र बनाया गया है जिसके माध्यम से टीका लगाया जा रहा है।