breaking news New

सेम्पल जांच में तेजी लाने जिला पंचायत सीईओ ने दिए निर्देश

 सेम्पल जांच में तेजी लाने जिला पंचायत सीईओ ने दिए निर्देश

राजकुमार मल

बलौदाबाजार-भाटापारा। कलेक्टर के निर्देश पर आज जिला पंचायत सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्की ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना के मौजूदा

हालात को लेकर बिलाईगढ़ अनुविभाग के मैदानी अमले से रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने जनप्रतिनिधियों पंचायत सचिवों,पटवारियों,मितानिनों एवं शिक्षको,तहसीलदारों,जनपद सीईओ एवं सीएमओ उपस्थित रहें। इस दौरान डॉ सिद्की ने कहा कि हाल के दिनों में जिलें में 87 संक्रमित मरीज मिले है। जिसमें से बिलाईगढ़ विकासखंड के 40 गावों में 69 संक्रमित मरीज मिले है। जिस पर गहरी चिंता जताते हुए कोरोना संक्रमण को रोकथाम हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए इसके साथ ही क्षेत्र में रैंडम कोरोना सेम्पल को तेजी करनें के निर्देश दिए है। उन्होंने आगें कहा कि अभी भी कोरोना का खतरा टला नहीं है। बल्कि विगत कुछ सप्ताह से लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही से संक्रमण का दर बढ़ा है। उन्होंने जोर देकर कहा कि अभी भी मास्क पहनना,हाथ को बार-बार धोना और सामाजिक दूरी बनाये रखना ही बचने के रामबाण उपाय है। इस दौरान बिलाईगढ़ नगर पंचायत अध्यक्ष सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी महत्वपूर्ण सुझाव प्रशासन को दिए। 


जांच रिपोर्ट आने तक अपने घर पर पृथकवास में रहें लोग : सीएमएचओ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने जाँच रिपोर्ट आने तक नमूना देने वाले लोगों को अपने घर पर पृथकवास (आइसोलेशन) में रहने को कहा है। उन्होंने खासकर आरटीपीसीआर और ट्रूनॉट तकनीक से जांच हेतु नमूना देने वालों के लिए ये बात कही है। सीएमएचओ ने कहा कि कोरोना बीमारी के होने अथवा न होने की पुष्टि हेतु फिलहाल जांच के तीन विधियां उपलब्ध हैं। एंटीजन टेस्ट, आरटीपीसीआर एवं ट्रूनॉट तकनीक हैं। मरीज़ के शरीर में वायरस की मात्रा यदि ज्यादा है, तो एंटीजन टेस्ट तुरन्त पकड़ लेता है। इसका परिणाम भी तुरंत खड़े-खड़े मिल जाता है। और संक्रमित व्यक्ति तत्काल प्रभाव से दवाई एवं सावधानियां लेना शुरू कर देता है। इसमें कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन आरटीपीसीआर और ट्रूनॉट  तकनीक से जांच रिपोर्ट मिलने में फिलहाल 1 से 4 दिन का समय लग रहा है। यदि व्यक्ति का रिपोर्ट पॉजिटिव आया और नमूना देने और रिपोर्ट आने की अवधि में उसकी हरकत आम दिनों की तरह रहा तो इस बीच वह अपने घर-परिवार सहित सैकड़ों लोगों को संक्रमित करने में सक्षम होगा। इसलिए रिपोर्ट आते तक हमें पृथकवास रहकर समय बिताना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने गांव गांव में स्थित सभी मेडिकल स्टोर्स में बुखार सर्दी खांसी के दवाइयों लेने वाले ग्राहकों पर विशेष निगरानी करनें का निर्देश स्थानीय कर्मचारियों को दिए है।