breaking news New

भूपेश ने गांधी एवं शास्त्री को उनकी जयंती पर किया नमन

भूपेश ने गांधी एवं शास्त्री को उनकी जयंती पर किया नमन

रायपुर।  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को उनकी जयन्ती पर नमन किया हैं।

मुख्यमंत्री बघेल ने गांधी जी एवं शास्त्री जी की जयन्ती की पूर्व संध्या पर जारी संदेश में कहा कि बापू ऐसा समाज चाहते थे, जिसमें अंतिम पंक्ति का अंतिम व्यक्ति भी न्याय से वंचित न हो। हर हाथ को काम मिलेे और सभी को सम्मानपूर्वक जीने का अधिकार मिले। राज्य सरकार बापू के राम राज्य की अवधारणा को जीवंत करते हुए नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने का प्रयास कर रही है।हमने ग्रामीण अर्थव्यवस्था की मजबूती और लोगों की आत्मनिर्भरता के लिए कई क्रांतिकारी कदम उठाए हैं।

उऩ्होने गांधी जी के छत्तीसगढ़ प्रवास को याद करते हुए कहा कि स्वतंत्रता संग्राम के दौरान महात्मा गांधी छत्तीसगढ़ में आए थे।उन्होने कहा कि हम गांधी जी के सपनों के अनुरूप नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने की कोशिशों को अपने गांव-मोहल्ले और गलियों तक ले जाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए स्कूली बच्चों के पाठ्यक्रम में महात्मा गांधी के आदर्शों और सिद्धांतों को शामिल करने का निर्णय लिया गया है। हम सब मिलकर गांधीजी के पदचिन्हों पर चलते हुए ‘नया छत्तीसगढ़‘ गढ़ेंगे।

श्री बघेल ने श्री शास्त्री के देश के प्रति अमूल्य योगदान को याद करते हुए कहा कि शास्त्री जी का भारतीय स्वाधीनता संग्राम में उनका महत्वपूर्ण योगदान था। वर्ष 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के समय उन्होंने देश को कुशल नेतृत्व प्रदान किया और ‘जय जवान-जय किसान’ का नारा देकर जनता का मनोबल बढ़ाया, जिससे सारा देश एकजुट हो गया।