breaking news New

भारत के सख्त रवैय्ये से झुका UK, किया क्वारंटाइन की शर्त को खत्म करने का ऐलान

भारत के सख्त रवैय्ये से झुका UK, किया क्वारंटाइन की शर्त को खत्म करने का ऐलान

नई दिल्ली। भारत की ओर से करारा जवाब मिलने के बाद ब्रिटेन ने अब भारतीय यात्रियों के लिए क्वारंटाइन की शर्त को खत्म करने का ऐलान किया है। ब्रिटेन ने गुरुवार को कहा कि यूके जाने वाले भारतीय यात्रियों के लिए 11 अक्टूबर से कोविशील्ड या फिर उसकी सरकार द्वारा अनुमोदित किसी अन्य वैक्सीन की दोनों डोज लेने वाले को क्वारंटाइन में नहीं रहना होगा।

इससे पहले ब्रिटेन की सरकार ने यूके जाने वाले भारतीय यात्रियों के लिए 10 दिनों का क्वारंटाइन अनिवार्य कर दिया था। ब्रिटेन का यह नया निमय 4 अक्टूबर से अमल में आ गया था। भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि यूके जाने वाले भारतीय यात्रियों के लिए 11 अक्टूबर से कोविशील्ड या यूके द्वारा अनुमोदित किसी अन्य वैक्सीन लेने वालों को क्वारंटाइन में नहीं रहना होगा। हालांकि, उन्होंने भारत की देसी कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन सर्टिफिकेट को लेकर चुप्पी साध रखी है।

भारत ने दिया था करारा जवाब
बता दें कि इस महीने की शुरुआत में भारतीय कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता न देने वाली ब्रिटिश सरकार को भारत ने करारा जवाब दिया था। भारत ने ब्रिटेन से आने वाले लोगों के लिए 10 दिनों तक क्वारंटीन में रहना जरूरी कर दिया है। ब्रिटेन ने भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को अब तक मान्यता नहीं दी है, जिस पर जवाबी कार्रवाई करते हुए यह फैसला लिया गया।

टीके लेने के बाद क्वारंटाइन जरूरी है
भारत की ओर से जारी किए गए ये नए 4 अक्टूबर से लागू हो गए हैं। इन नियमों से किसी भी देश की नागरिकता रखने वाले लोगों को कोई छूट नहीं है। ब्रिटेन से आने वाले हर यात्री को 10 दिनों क्वारंटीन में रहना ही होगा। यही नहीं इसके लिए वैक्सीनेशन के स्टेटस का भी कोई प्रावधान नहीं रखा गया है। भले ही आने वाले यात्री को कोरोना वैक्सीन के दो टीके लग चुके हों, लेकिन उसे आइसोलेशन में रहना होगा।