breaking news New

बिहार : नीतीश कुमार का चौथी बार सीएम बनना तय, अब सरकार गठन पर होगी चर्चा

बिहार : नीतीश कुमार का चौथी बार सीएम बनना तय, अब सरकार गठन पर होगी चर्चा

बिहार में चौथी बार नीतीश कुमार का मुख्यमंत्री लगभग तय हो गया है. एनडीए के सहयोगी दलों ने सरकार गठन के जादुई आंकड़े 122 की संख्या को पार कर लिया है. एनडीए को अब तक 123 सीटें मिल गई हैं, जबकि महागठबंधन 113 सीटें मिली हैं. अन्य को फिलहाल 7 सीटों से ही संतोष करना पड़ा.

सुबह आठ से शुरू हुआ मतगणना का कार्य अभी भी जारी है. चुनाव आयोग के अनुसार परिणाम आने में देर रात तक का समय लगेगा. अभी के रुझानों के अनुसार महागठबंधन और एनडीए में कांटे की टक्कर चल रही है. सूत्रों के हवाले से ऐसी जानकारी मिल रही है कि 20 से अधिक सीटें ऐसी हैं जहां बढ़त का फासला एक हजार वोट से भी कम है, ऐसे में कभी भी बाजी पलट सकती है. इस बीच राजद ने ट्‌वीट करके यह दावा किया है कि सरकार महागठबंधन की ही बनेगी. राजद के ट्‌वीट में कहा गया है- अभी 84 सीटों पर हम आगे हैं. कई जगह पोस्टल वोटिंग की अभी गिनती नहीं हुई है. आप अंतिम समय तक डटे रहिए.

उदाहरण स्वरूप जैसे महनार में 12 हज़ार, फतुआ 14 हज़ार और सूर्यगढ़ा 10 हज़ार से हम लीड कर रहे है लेकिन टीवी पर पीछे दिखा रहा है. हम सभी क्षेत्रों के उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं से संपर्क में है और सभी जिलों से प्राप्त सूचना हमारे पक्ष में है. देर रात तक गणना होगी. महागठबंधन की सरकार सुनिश्चित है. बिहार ने बदलाव कर दिया है. सभी प्रत्याशी और काउंटिंग एजेंट मतगणना पूरी होने तक काउंटिंग हॉल में बने रहें.

बिहार विधानसभा चुनाव का परिणाम देर रात तक आने की संभावना है, लेकिन रुझानों से यह प्रतीत होता है कि NDA को बहुमत मिल सकता है. बहुमत की संभावना के बाद जदयू कार्यकर्ता जश्न में डूब गये हैं. पटना में कार्यकर्ताओं ने नाच-गाकर अपनी खुशी का इजहार किया.

11 राज्यों की 58 विधानसभा सीटों और बिहार के एक लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के बाद वोटों की गिनती जारी है. मध्य प्रदेश की 28, गुजरात की आठ, उत्तर प्रदेश की सात, मणिपुर की चार, कर्नाटक, ओडिशा, झारखंड और नागालैंड की दो-दो सीटें तथा छत्तीसगढ़, तेलंगाना और हरियाणा की एक-एक सीट पर उपचुनाव हुए हैं. इसके साथ ही बिहार की एक लोकसभा सीट पर भी उपचुनाव हुए हैं. यह उपचुनाव मध्य प्रदेश की राजनीति के लिए अहम माना जा रहा है. सबसे ज्यादा 28 सीटों पर यहीं उपचुनाव हुए हैं. इन सीटों पर 12 मंत्रियों सहित कुल 355 उम्मीदवारों की किस्मत दाव पर है.