breaking news New

Breaking : पुरुष एफआईएच प्रो हॉकी लीग में भारत ने जर्मनी को लगातार दूसरी बार पछाड़ा

Breaking : पुरुष एफआईएच प्रो हॉकी लीग में भारत ने जर्मनी को लगातार दूसरी बार पछाड़ा

भुवनेश्वर।  फॉरवर्ड सुखजीत सिंह, अभिषेक और डिफेंडर वरुण कुमार के शानदार गोलों की बदौलत भारत ने शुक्रवार को यहां 2021-22 पुरुष एफआईएच प्रो हॉकी लीग में जर्मनी को लगातार दूसरी बार हरा दिया।

भारत ने दुनिया की नंबर छह टीम जर्मनी को यहां भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में प्रो लीग मैच में 3-1 से हरा कर 2021-22 प्रो लीग के अपने घरेलू चरण अभियान का शानदार समापन किया। भारत की ओर से सुखजीत (19), वरुण (41) और अभिषेक (54) गोल स्कोरर रहे।

मैच बेहद रोमांचक रहा और दोनों ही टीमों ने शुरुआत से ही अटैक और डिफेंस में परिपक्वता दिखाई। भारत हालांकि फिर से जर्मनी पर भारी पड़ा। पहला क्वार्टर गोल रहित रहने के बाद जर्मनी पर दबाव तब बढ़ा, जब 19वें मिनट में सुखजीत ने शानदार फील्ड गोल दाग कर भारत को 1-0 की बढ़त दिला दी।

इस गोल के बाद हालांकि मैच की तीव्रता और बढ़ गई। परिणामस्वरूप तीसरे क्वार्टर की समाप्ति के चार मिनट पहले तक गोल का सूखा रहा, लेकिन फिर भारत पेनल्टी कॉर्नर अर्जित करने में सफल हुआ और वरुण इसे गोल में तब्दील करने से नहीं चूके। इसी के साथ भारत ने 2-0 की बढ़त बना कर जर्मनी पर दबाव और बढ़ा दिया, हालांकि जर्मनी ने पलटवार करते हुए 45वें मिनट में बेहतरीन फील्ड गोल कर 2-1 के स्कोर के साथ तीसरा क्वार्टर समाप्त किया। यह गोल मिडफील्डर एंटोन बोएकेल के नाम रहा।

चौथे और आखिरी क्वार्टर में भारत ने जहां बढ़त को बढ़ाने की कोशिश की, वहीं जर्मनी ने स्कोर को बराबर लाने के लिए मशक्कत की। दोनों टीमों की ओर से इस क्वार्टर में कड़ी स्पर्धा देखने को मिली, लेकिन अंतत: भारत 54वें मिनट में स्कोर करने में कामयाब रहा। युवा फॉरवर्ड अभिषेक ने शानदार फील्ड दागते हुए भारत को 3-1 से आगे कर दिया। भारत ने फिर अंत तक यह बढ़त बनाए रखी और मुकाबला जीत लिया।

उल्लेखनीय है कि इससे भारत ने गुरुवार को यहां जर्मनी को 3-0 से एकतरफा अंदाज में हराया था। टीम के उप कप्तान एवं डिफेंडर हरमनप्रीत सिंह दो गोल दाग कर कल के हीरो रहे थे।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम इस जीत के साथ तीन और अंक लेकर कुल 27 अंकों के साथ प्रो लीग अंक तालिका में शीर्ष पर बरकरार है। भारत ने 12 में से आठ मैचों में सीधी जीत और एक मुकाबला शूटआउट में जीता है, जबकि दो सीधी हार और एक मैच शूटआउट में हारा है। वहीं जर्मनी 10 मैचों में पांच जीत और चार हार के साथ 17 अंक लेकर दूसरे स्थान पर है।