breaking news New

भाजपा द्वारा जांजगीर के बीटीआई चौक पर किया गया चक्का जाम

भाजपा द्वारा जांजगीर के बीटीआई चौक पर किया गया चक्का जाम


सक्ती।   प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार के द्वारा राज्य में पेट्रोल डीजल की कीमतों पर वैट टैक्स नहीं घटाया जा रहा है जिसके विरोध में भारतीय जनता पार्टी जिला जांजगीर चांपा ने जिला मुख्यालय के बीटीआई चौक में चक्का जाम आंदोलन किया यह चक्का जाम 11 बजे से 1 बजे तक 2 घंटे के लिए किया गया था ।

बीटीआई चौक से गुजरने वाली सभी रास्तों को बेरिकेट लगाकर बंद कर दिया गया था आज के इस चक्का जाम आंदोलन में विशेष रुप से सामिल हुए भाजपा प्रदेश महामंत्री नारायण चंदेल, सांसद माननीय गुहाराम अजगल्ले,

भाजपा जिलाध्यक्ष कृष्ण कांत चंद्रा,अकलतरा विधायक सौरभ सिंह,अजा मोर्चा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व सांसद कमला देवी पटले, पूर्व मंत्री मेघाराम साहू। सभी अतिथियों ने अपना उद्बोधन रखा।

आज के इस चक्काजाम आंदोलन को भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष कृष्णकांत चंद्रा जी ने अपने उद्बोधन में भूपेश बघेल की टैक्स को औरंग जेब की टैक्स से तुलना करते हुए कहा कि कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार राज्य में पेट्रोल डीजल में वैट टैक्स को कम नहीं किया गया है।

इस मामले में कांग्रेस की भूपेश सरकार अड़ियल रवैया अपना रहा है। वेट टैक्स घटाने की मांग भाजपा कई बार कर चुकी है लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनहित के इस मांग को अनदेखा किया है। मंगाई रोकने के लिए राज्य सरकार को कई बार ज्ञापन दिया जा चुका है।

फिर भी वह टैक्सों घटाया नहीं गया है जिसके विरोध में आज यह प्रदर्शन चक्काजाम आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि  भाजपा की केंद्र सरकार ने GST लगाकर टैक्स का सरलीकरण किया है। आगे कहा कि कांग्रेस की राज्य में सीमेंट की कीमत भी आसमान छू रही है। रेत के दाम भी बेतहाशा बढ़ाया गया है हर जगह माफियाओं का राज चल रहा है भूपेश बघेल की संरक्षण में माफियाओं का मनोबल बढ़ा हुआ है।

उन्होंने कहा कि मोदी जी ने बड़ा दिल दिखाते हुए डीजल पर ₹10 व पेट्रोल पर ₹5 की कीमत कम कर एक बड़ा फैसला लिया है इसके बाद प्रदेशों से भी यह अपेक्षा थी कि वहां वेट कम कर जनता को राहत देगी लेकिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस विषय पर भी केवल और केवल निम्न स्तरीय निंदनीय राजनीति कर रहे हैं यह दुखद है जबकि अन्य प्रांतों में डीजल पेट्रोल पर टैक्स घटाया है।

आज छत्तीसगढ़ में महंगाई चरम सीमा पर पहुंच गई है। अगर यह मांग सीघ्र ही पूरा नहीं किया गया तो इस आंदोलन को ग्रामीण स्तरों पर भी किया जाएगा। आज के इस कार्यक्रम में भाजपा के अनेक पदाधिकारी, पार्षद, जिला पंचायत सदस्य सहित भाजपा के अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।