breaking news New

मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ को नल जल योजना के लिए दिया 1हजार 909 करोड़ की सौगात - अनीता ध्रुव

मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ को नल जल योजना के लिए दिया 1हजार 909 करोड़ की सौगात - अनीता ध्रुव


अब बूंद-बूंद के लिए नहीं तरसेंगें ग्रामीण, हर घर को मिलेगा नल से जल

धमतरी, 13 जून। जल जीवन मिशन योजना के तहत देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्र मोदी जी ने छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए भारी भरकम राशि प्रदान की है ताकि शहर से गांव तक के प्रत्येक घरों में पीने का शुद्ध पानी मिल सके।

इस संदर्भ में चर्चा के दौरान भाजपा आदिवासी नेत्री जिला पंचायत सदस्य अनीता ध्रुव ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की परिकल्पना को मूर्त रुप देने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार ने हर घर में नल से शुद्ध पेयजल पहुंचाने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार को जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2021-22 के लिए 1हजार 909 करोड़ रुपये दी है। जिसमें से राष्ट्रीय जल जीवन मिशन,जल शक्ति मंत्रालय ने मौजूदा वित्त वर्ष के लिए 453.71करोड़ रूपयें की पहली किस्त भी जारी कर दी है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री श्री शेखावत जी ने छत्तीसगढ़ को भरोसा दिया है कि छत्तीसगढ़ में प्रत्येक ग्रामीणों के घर में वर्ष 2023 तक नल से शुद्ध पेयजल पहुंचाने हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री के सबका साथ,सबका विकास और सबका विश्वास, सिद्धांत में अंतर्निहित मूल भावना के ही अनुरूप जल जीवन मिशन का भी संकल्प है कि कोई भी परिवार न छुटे और प्रत्येक गांव के हर घर में नल से पेयजल उपलब्ध कराया जाए। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में 19,684 गांवों में रह रहे कुल 45.48 लाख परिवारों में से केवल 5.69 लाख ग्रामीण परिवारों को ही नल से पेयजल सुविधा मिल पा रही है।

अनीता ध्रुव ने कहां कि 15 अगस्त 2019 में जल जीवन मिशन के शुभारंभ के समय छत्तीसगढ़ राज्य में 3.19 लाख ग्रामीणों के घरों में ही नल कनेक्शन था।इन 21 महीनों के दौरान छत्तीसगढ़ में केवल 2.49 लाख ग्रामीणों के घर तक नये नल जल कनेक्शन पहुचायी जा सके हैं,जो छत्तीसगढ़ सरकार की नाकामी हैं। पुर देश में धीमी गति से काम करने के मामले में छत्तीसगढ़ दुसरे नम्बर पर है। छत्तीसगढ़ में हर घर नल जल की सुविधा पहुंचाने के लिए अभी शेष 39.78 लाख ग्रामीणों के घर में नल जल कनेक्शन पहुंचाना बांकी है। छत्तीसगढ़ के 5,530 ग्रामों में नल जल कनेक्शन देने के लिए अब तक जल आपूर्ति संबंधी कार्य शुरू ही नहीं हुई है।

यह कि गजेन्द्र सिंह शेखावत केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री ने इस धीमी गति के कार्य के लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि ग्रामीणों के घरों में नल जल कनेक्शन देने के काम में तेजी लायी जाए,इस दिशा में हर गांव-गांव में कार्य शुरू किया जाए ताकि वर्ष 2023 तक हर घर जल मिल जाए। माननीय प्रधानमंत्री के जल जीवन मिशन का 2024 तक देश के सभी ग्रामीणों के घरों तक नल के जरिए शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना लक्ष्य है आदिवासी भाजपा नेत्री अनीता ध्रुव ने माननीय प्रधानमंत्री का आभार जताया है।

ज्ञातब्य है कि केन्द्र सरकार ने वर्ष 2020-21 में 445.52 करोड़ रूपयें और 2021-22 में 1हजार 909 करोड़ की राशि दिया है जिस पर छत्तीसगढ़ सरकार ने घर घर जल पहुंचाने के लिए वर्ष 2021-22 के दौरान 22.14 लाख घरों में नल जल कनेक्शन देने की योजना बनाई है। जबकि वर्ष 2022-23 में 11.37 लाख घरों को और वर्ष 2023-24  में शेष बचें 6.29 लाख घरों तक कनेक्शन से पीने का पानी पहुंचाया जाएगा।