वाशिंगटन : भारतीय मूल के जज अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नये न्यायाधीश की दौर में आगे

वाशिंगटन : भारतीय मूल के जज अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नये न्यायाधीश की दौर में आगे

वाशिंगटन।  भारतीय मूल के न्यायाधीश अमूल थापर अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नये न्यायाधीश के पद की दौर में सबसे आगे हैं।  सुप्रीम कोर्ट की न्यायाधीश रूथ बेडर गिन्सबर्ग के शुक्रवार के निधन के कारण यह पद रिक्त हुआ है। वह 87 वर्ष की थीं। सुश्री गिन्सबर्ग इस पद पर 27 वर्ष तक रहीं और कैंसर से पीड़ित होने बावजूद उन्होंने अपना काम जारी रखा था। उन्होंने अपने जीवन के अंतिम क्षणों में अपनी पोती से कहा था कि वह चाहती हैं कि देश में राष्ट्रपति चुनाव होने तक उनकी कुर्सी खाली रहे।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की न्यायमूर्ति गिन्सबर्ग की जगह लेने वाले शीर्ष नामों की सूची में श्री थापर का नाम प्रमुख है। कई मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, ट्रंप ने शनिवार को संकेत दिया कि वह नये जज के मामले में 'बिना देरी के' आगे बढना चाहते हैं लेकिन उन्होंने कोई संकेत नहीं दिया है कि यह कौन होगा या कब होगा। लेकिन उनके पास लंबे समय से संभावित उम्मीदवारों की एक सूची है, जिसे उन्होंने हाल ही में 20 नामों के साथ अपडेट किया था।

श्री थापर कुछ समय के लिए सूची में रहे और उन्होंने जस्टिस स्टीफन कैनेडी का उत्तराधिकारी बनने के लिए संभावित उम्मीदवार के रूप में नामों की सूची में जगह बनाई। श्री कैनेडी वर्ष 2018 में सेवानिवृत्त हो गए थे।  थापर, 51 अपील के छठे अमेरिकी सर्किट कोर्ट में एक न्यायाधीश हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा,''हमें सत्ता और महत्व के लिए उन लोगों के लिए निर्णय लेने के लिए रखा गया है जिन्होंने हमें बहुत गर्व के साथ चुना है। बिना देरी के हमारा यह दायित्व है!''