breaking news New

सभी जोनों में राजस्व वसूली जारी, जरुरत पड़ेगी तो कुर्की की कार्यवाही भी की जाएगी

सभी जोनों में राजस्व वसूली जारी, जरुरत पड़ेगी तो कुर्की की कार्यवाही भी की जाएगी

 रायपुर । रायपुर नगर पालिक निगम क्षेत्र के सभी जोनों में राजस्व वसूली की जा रही है। महापौर एजाज ढेबर, आयुक्त सौरभ कुमार, राजस्व विभाग की अध्यक्षअंजनी राधेश्याम विभार के आदेशानुसार सभी 10 जोनों के राजस्व विभाग की टीमों द्वारा सभी 70 वार्डों में प्रतिदिन अभियानपूर्वक सम्पत्ति कर सहित निगम के सभी करों की वसूली तेजी से करने का क्रम निरन्तरता से जारी है।

सभी 70  वार्डों में नगर निगम की टीमों द्वारा घर-घर जाकर संपत्तिकर डिमांड नोटिस एवं पाम्पलेट वितरित किया जा रहा है। इसकी सभी जोन कमिश्नरगण एवं समस्त जोन सहायक राजस्व अधिकारीगण प्रतिदिन निरन्तर मानिटरिंग कर रहे हैं । बड़े बकायादारों से कड़ाई से वसूली करने तत्काल निगम को सम्पूर्ण करों की अदायगी नहीं करने वालों पर कुर्की की कार्यवाही करने की तैयारी की जा रही है। जोन की समस्त राजस्व टीमों द्वारा करदाताओं की घर में अनुपस्थिति होने पर घर के दरवाजे पर सम्पतिकर डिमांड नोटिस चस्पा की जा रही है।

आज नगर निगम के जोनों के राजस्व विभाग की टीमों द्वारा  जोन कमिश्नर के नेतृत्व एवं जोन सहायक राजस्व अधिकारी सहित राजस्व निरीक्षकगणों, सहायक राजस्व निरीक्षकगणों की उपस्थिति में नगर  निगम के  हित में सभी 70 वार्डों में अभियान चलाकर  निरन्तर क्रम में जोरदार वसूली की है। इसमें निगम जोन 1 की राजस्व विभाग की टीम ने आज 57 करदाताओं से 3 लाख 70 हजार 993 रूपये राजस्व वसूला है। जोन 2 की राजस्व विभाग की टीम ने आज 54 करदाताओं से 4 लाख 76 हजार 449 रूपये, जोन 3 की टीम ने 64 करदाताओं से 11  लाख 62  हजार 968 रूपये, जोन 4 की टीम ने 50 करदाताओं से 4 लाख 5 हजार 781 रूपये, जोन 6 की टीम ने 56  करदाताओं से 2 लाख 31 हजार 679 रूपये, जोन 7 की राजस्व विभाग की टीम ने  54 करदाताओं से 2 लाख 94 हजार 878 रूपये, जोन 8 की टीम ने 76 करदाताओं से 4 लाख 6 हजार 635 रूपये, जोन 9 की टीम ने 96 करदाताओं से 7 लाख 57 हजार 940 रूपये एवं जोन 10 की राजस्व विभाग की टीम ने 88  करदाताओं से 3 लाख 49 हजार 300 रूपये का राजस्व आज एक दिन के अभियान में वसूला। अभियान प्रतिदिन तेजी से नगर निगम के हित में सभी 10 जोनों की राजस्व विभाग की टीमों द्वारा सभी 70 वार्डों में  महापौर, आयुक्त, राजस्व विभाग अध्यक्ष के आदेशानुसार निरन्तरता से जारी रहेगा।