breaking news New

कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में असफल साबित हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह

कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में असफल साबित हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह

जालंधर।  पंजाब भाजपा के महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा कि पंजाब कांग्रेस में भितरघात के चलते राज्य को कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई में भरी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

 शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का ध्यान राज्य पर मंडरा रहे भयानक संकट से निपटने की बजाय असंतुष्टों को अपने पक्ष में राजी करने तथा उनका ध्यान भटकाने में ज्यादा है।  सिंह कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में असफल साबित हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में समय पर पर्याप्त स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के निर्माण में राज्य सरकार की विफलता ने यह संकेत दिया कि मुख्यमंत्री ने महामारी से लड़ाई की बजाय अन्य प्राथमिकताओं को पहल दी।

महासचिव ने कहा कि भाजपा महामारी संकट का राजनीतिकरण नहीं करना चाहती, लेकिन कोविड-19 के कारण पंजाबियों को पेश आ रही समस्याओं के चलते यह निश्चित रूप से सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी को संकट की स्थिति में ले जाएगी। उन्होने कहा कि कोरोना के विरुद्ध राज्य को सामूहिक रूप से इसका मुकाबला करने की आवश्यकता है, लेकिन अंदरूनी लड़ाई से जूझ रही कांग्रेस ने पंजाब की स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति को बुरी तरह से कमजोर कर दिया है और पंजाब को देश में सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्यों में से एक बना दिया है।