breaking news New

सवर्ण विरोधी मानसिकता का आरोप लगाते हुए लल्लू के खिलाफ खुला मोर्चा

सवर्ण विरोधी मानसिकता का आरोप लगाते हुए लल्लू के खिलाफ खुला मोर्चा

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश कांग्रेस के सचिव रहे सुनील राय ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पर सवर्ण विरोधी मानसिकता का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके रहते सवर्ण लोग पार्टी से नहीं जुड़ सकते है ।
श्री सुनील राय ने पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी से प्रदेश अध्यक्ष बदलने की मांग की है ।
सुनील राय ने आज यहां अजय लल्लू के ख़िलाफ़ मोर्चा खोलते हुए उन्हें सवर्ण विरोधी बताया तथा पार्टी से हटाने की मांग की है । इसके साथ ही श्री राय ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व उनके लोगों से अपनी हत्या की आशंका
जताते हुए प्रदेश की योगी सरकार से सुरक्षा की मांग भी की है ।
राय ने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सबको लेकर चलने में सक्षम नहीं है । लल्लू लगातार कांग्रेस
को कमजोर कर रहे है । पहले कांग्रेस सर्व समाज की पार्टी थी, पर अब श्री लल्लू के व्यवहार से तमाम बड़े नेता कांग्रेस से कट गये है ।
इस संबंध में सुनील राय ने पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र भी लिखा है । पत्र में उन्होंने लिखा है कि वो पार्टी के एक निष्ठावान कार्यकर्ता है । विगत 25 सालों से लगातार पार्टी का सेवा करते आ रहे है, पर न तो चुनाव लड़ने का कभी अवसर मिला और न ही एक बार प्रदेश सचिव को छोड़कर संगठन में ही कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिली जबकि बाहर से आए लोग लगातार सम्मान पाते रहें । पत्र में श्री राय ने अजय कुमार लल्लू को सवर्ण विरोधी बताते हुए कहा है
कि फिलहाल उत्तर प्रदेश में पार्टी का बागडोर ऐसे हाथ में है जो सवर्ण विरोधी है व सबको साथ लेकर चलने की क्षमता भी उनमें नहीं है ।
पत्र में श्री राय ने लिखा है कि उन्होंने नव वर्ष पर उत्तर प्रदेश पार्टी मुख्यालय के समक्ष शुभकामना की एक होर्डिंग लगाई थी, जिसमे श्रीमती प्रियंका गांधी की तो फोटो थी, पर श्री लल्लू की फोटो नहीं लग पायी थी । उस होर्डिंग में अपना फोटो न देख अजय लल्लू ने उसे उतरवा कर सड़क पर फिकवा दिया और इसका विरोध करने पर उनके लोगो
ने बदसलूकी की । जिसके चलते बाद में पुलिस की मदद भी लेनी पड़ी । श्री लल्लू के दबाव में पुलिस भी उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नही कर रही है, जबकि उनके खिलाफ 323, 427, 352 की धाराओं के तहत लखनऊ के हुसैनगंज
थाने में मुकदमा दर्ज है ।