breaking news New

बाबा गुरु घासीदास ने सामाजिक कुरीतियों पर कुठाराघात किया: कविता योगेश बाबर

बाबा गुरु घासीदास ने सामाजिक कुरीतियों पर कुठाराघात किया: कविता योगेश बाबर

संजय जैन, धमतरी। ग्राम राँवा में गुरु घासीदास जयंती समारोह एवं मड़ई मेला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि वन समिति सभापति जिला पंचायत कविता योगेश बाबर थी। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन एवं घ्वजारोहण करके किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता गोपालन पटेल सरपंच ग्राम पंचायत राँवा विशिष्ट अतिथि गोबिन्द साहू सभापति जिला पंचायत बालाराम देवांगन अध्यक्ष कर्रा सोसाइटी नील मनी साहू, लालचंद साहू, प्राण सिंह सिन्हा पूर्व सैनिक अमरदीप साहू थे।

सभा को संबोधित करते हुए बाबर ने समस्त सतनामी समाज एवं ग्राम वासियों को परम पूज्य बाबा गुरु घासीदास जयंती की शुभकामनाएं दीं एवं कहा कि बाबा का जन्म छत्तीसगढ़ के गिरौदपूरी गाँव में हुआ था, वे एक अत्यंत ग़रीब परिवार में पैदा हुए। उन्होने सामाजिक कुरीतियों पर कुठाराघात किया एवं सतनाम संप्रदाय की स्थापना की सतनाम पंथ का उन्हें संस्थापक माना जाता है। ​उन्होंने अपने जीवन काल में कम उम्र में पशुओं की बली एवं छुआ छूत की खिलाफ़त की उन्होने यह संदेश दिया कि सतनाम धर्म को मानो जो की सनातन धर्म का ही प्रारूप है।

​सतनाम धर्म प्रत्येक मानव को मानव का स्थान देता है ,यहाँ न कोई छोटा है न बड़ा है सभी जन एक समान रह कर ही अपने जीवन को सफल बना सकते हैं। सभा को अन्य अतिथियों ने भी संबोधित किया इस अवसर पर माणिक राम साहू, जनपद सदस्य गणेश राम बाँधे अध्यक्ष कार्तिक राम बाँधे शिवा टंडन सुखलाल कोसरे एवं बड़ी संख्या में सतनामी समाज के सदस्य एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।