breaking news New

वैक्सीन पर आपसी बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण-गहलोत

वैक्सीन पर आपसी बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण-गहलोत

जयपुर, 5 जनवरी। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक कंपनियों की वैक्सीन को भारत में मंजूरी के बाद इनमें आपसी बयानबाजी को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा है कि इस संवेदनशील मुद्दे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दखल देना चाहिए।

श्री गहलोत ने आज सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक कंपनियों की वैक्सीन को भारत में मंजूरी मिलने के बाद दोनों कंपनियों के बीच हुई आपसी बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण है। यह संवेदनशील मुद्दा है जिसमें प्रधानमंत्री को दखल देना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके ‘कोविशील्ड' और भारत बायोटेक के स्वदेश में विकसित टीके ‘कोवैक्सीन' के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को रविवार को मंजूरी दी थी।