breaking news New

200 देशों के लोगों की सूची जारी : बहुस्तरीय एजेंसियों द्वारा की जायेगी पंडोरा पेपर की जाँच

200 देशों के लोगों की सूची जारी :  बहुस्तरीय एजेंसियों द्वारा की जायेगी पंडोरा पेपर की जाँच

नयी दिल्ली।    सरकार ने आज कहा कि पंडोरा पेपर मामले की केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के अध्यक्ष की अध्यक्षता में बहुस्तरीय एजेंसियों द्वारा जाँच की जायेगी जिसमें सीबीडीटी के साथ प्रवर्तन निदेशालय, रिजर्व बैंक और एफआईयू के प्रतिनिधि भी शामिल है।

वित्त मंत्रालय ने आज यहां जारी बयान में कहा कि इंटरनेशनल कॉसोर्टियम ऑफ इंटरनेशनल जर्नलिस्ट्स ने कल 2.94 टेराबाइट डेटा के माध्यम से 200 देशों के ऐसे लोगों की सूची जारी की है जिनकी विदेशों में संपत्ति है। विदेशों में सेवा प्रदान करने वाली 14 कंपनियों के गोपनीय रिकार्ड के आधार पर यह जांच की गयी है। ये कंपनियां अमीरों और कंपनियों को अपनी सेवायें देती है।

मंत्रालय ने कहा कि सरकार ने इसे संज्ञान में लिया है। संबंधित जाँच एजेंसियां इस मामलें की जाँच करेगी और विधि सम्मत उचित कार्रवाई की जायेगी। इस मामले की प्रभावी जाँच के लिए सरकार विदेशों से जानकारी एकत्रित करेगी और संबंधित करदाता या कंपनी से भी जानकारी लेगी।

उसने कहा कि पंडोरा पेपर में अब तक कुछ भारातीय और कंपनियाें के नाम मीडिया में आये हैं। इस पेपर को जारी करने वाले संगठन की वेबसाइट पर भी अब तक नाम जारी नहीं किये गये और कोई विशेष जानकारी भी नहीं दी गयी है। संगठन का कहना है कि इस मामले में चरणबद्ध तरीके से सूचना जारी की जायेगी।