breaking news New

जिला अस्पताल कोविड वार्ड के पास गंदगी का आलम

जिला अस्पताल कोविड वार्ड के पास गंदगी का आलम


*संजय जैन*

*धमतरी 10 मई।* समूचे जिले में वैश्विक महामारी से बचाव के साधन जुटाये जा रहे हैं। मास्क, सेनेटाइजर के उपयोग तथा सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की जा रही है। कलेक्टर जे पी मौर्य स्वयं शहरी एवं मैदानी इलाकों में भ्रमण कर कोविड सेंटरों का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे हैं। लेकिन जिला अस्पताल जिसके कंधे पर इस महामारी सेग्रसित व्यक्ति को भर्ती करने का जिम्मा है, उसके मरच्यूरी ग्रह के समीप कोविड वार्ड के पास गंदगी कचरे का ढेर जिला अस्पताल की लापरवाही को उजागर करता है।

 वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को रोकने वर्तमान समय में 15 मई तक तालाबंदी है। इससे पूर्व भी संक्रमण को रोकने जिला प्रशासन पूरी शक्ति लगाकर कोरोना चैन को तोडऩे प्रयासरत है। कलेक्टर श्री मौर्य द्वारा लगातार वर्चुअल तथा सोशल डिस्टेंसिंग के माध्यम से प्रतिदिन स्वास्थ्य विभाग की बैठक रखकर की गई व्यवस्था की जानकारी ली जा रही है। वे स्वयं जिले के ब्लॉकों में पहुंचकर की गई तैयारी का जायजा ले रहे हैं और स्वास्थ्य विभाग द्वारा की गई व्यवस्था पर संतोष जाहिर कर रहे हैं। लेकिन जिला अस्पताल के प्रभारी, कलेक्टर द्वारा किये जा रहे प्रयास को नजरअंदाज कर कोविड वार्ड के समीप कचरे के ढेर तथा गंदगी को हटवाने में रूचि नहीं दिखा रहे हैं। जिला अस्पताल मरच्यूरी ग्रह के समीप कोविड वार्ड स्थित है। यहां पड़ी हुई पट्टियां इत्यादि को मवेशी द्वारा सूंघा जा रहा है जिससे उनके भी स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड़ सकता है।

 जिला अस्पताल के प्रभारी द्वारा बरती जा रही यह लापरवाही को उजागर करने अनेक फोटो व्हाट्सप पर भेजा गया है। लोगों ने जब इस मामले को लेकर उनसे चर्चा करनी चाही तो उन्होंने दो टूक जवाब दिया, मैं कहां-कहां देखूं। जबकि जिला अस्पताल और इसके आसपास की सफाई के लिये यहां सफाई कर्मी लगातार अपनी सेवायें दे रहे हैं। फिर भी इस प्रकार लापरवाही वह भी कोविड वार्ड के समीप निश्चित रूप से बहुत बड़ी लापरवाही है। अनेक जागरूक लोगों ने कलेक्टर के संज्ञान में लाते उचित कार्यवाही की मांग की है। इस मामले पर अस्पताल के सह अधीक्षक से दूरभाष पर संपर्क कर उनका पक्ष लिये जाने का प्रयास किया गया लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।