breaking news New

ब्रेकिंग : 11 मौंतें एक ही अस्पताल में..आक्सीजन की कमी के चलते मरीजों ने दम तोड़ा..लखनऊ के टेंडर पॉम अस्पताल का दुर्भाग्य..सीएमओ के पैरों में गिरने वाली महिला ने भी अपना बेटा खोया!

ब्रेकिंग : 11 मौंतें एक ही अस्पताल में..आक्सीजन की कमी के चलते मरीजों ने दम तोड़ा..लखनऊ के टेंडर पॉम अस्पताल का दुर्भाग्य..सीएमओ के पैरों में गिरने वाली महिला ने भी अपना बेटा खोया!

कोरोना काल में लोग हर पल जिंदगी से जंग हार रहे हैं. उन्हें ना तो समय पर ऑक्सीजन मिल रही है ना ही ढंग से इलाज. हालात इतने खराब हो चुके हैं कि सरकारी से लेकर महंगे अस्पतालों में भी व्यवस्था ठप हो चुकी है. लखनऊ के टेंडर पॉम अस्पताल में एक साथ 11 मरीजों की मौत हो गई. बिजनौर में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला.

लखनऊ के टेंडर पॉम अस्पताल में समय पर आक्सीजन खत्म हो जाने के कारण 11 मरीजों की मौत हो गई. कल सीएमओ के पांव में गिरकर रोने वालीं रिंकू देवी ने अपना इकलौता बेटा खो दिया.

उत्तर प्रदेश के बदायूं और बलिया के अस्पतालों में गुरुवार को ऑक्सीजन को लेकर खासा हंगामा हुआ. बदायूं में कथित रूप से ऑक्सीजन की कमी से दो मरीजों की मौत हो गई, जिसके बाद उनके परिजन ने अस्पताल में खासा हंगामा किया. बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को संभाला.

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर बी. वी. राम ने बताया ‘‘ शहर के नेकपुर के निवासी सुल्तान सिंह (55) और अब्दुल्लागंज के रहने वाले अजीत कुमार दुबे (48) को उनके परिजन दोपहर में जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में लेकर आए थे. उनकी सांस बहुत बहुत तेज चल रही थी. ऑक्सीजन की बहुत कमी थी और हालत गंभीर थी.’’ उन्होंने बताया कि तत्काल दोनों को उचित चिकित्सा उपलब्ध कराई गई लेकिन मात्र 35 मिनट के अंदर दोनों की मौत हो गई. उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है और ऑक्सीजन की कमी से दोनों मरीजों की मौत होने का उनके परिजनों का आरोप बिल्कुल गलत है.