breaking news New

दंतेवाड़ा : पुताई के दौरान पैर फिसलने के कारण मजदूर की मौत, मृतक के परिजनों ने लगाया व्यवसाई पर लापरवाही का आरोप

दंतेवाड़ा : पुताई के दौरान पैर फिसलने के कारण मजदूर की मौत, मृतक के परिजनों ने लगाया व्यवसाई पर लापरवाही का आरोप

दंतेवाड़ा।  गीदम के वार्ड क्रमांक चार में एक व्यवसाई के यहां पुताई का कार्य कर रहे कासोली के नयापारा निवासी विमल ठाकुर की मौत हो गई। दरअसल मामला यह है कि गीदम के वार्ड क्रमांक 4 के निवासी व्यवसाई के यहां दूसरे माले में तीन मजदूर पुताई का कार्य कर रहे थे। पुताई के दौरान एक मजदूर का पैर फिसलने के कारण वह नीचे गिर गया और उसे सिर में गहरी चोट आई। मजदूर की गंभीर स्थिति को देखते हुये व्यवसायी द्वारा उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गीदम ले जाया गया जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे दंतेवाड़ा जिला अस्पताल रेफर कर दिया। लेकिन उसकी बिगड़ती स्थिति को देखते हुए जिला चिकित्सालय के डॉक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज जगदलपुर रेफर किया मेडिकल कॉलेज पहुंचते के बाद वहां के डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मजदूर विमल ठाकुर के परिजनों ने व्यवसाई पर आरोप लगाया है कि व्यवसाई ने उसके इलाज पर ध्यान नहीं दिया। जिसके कारण उसकी मौत हो गई। यदि व्यवसायी ने तत्काल उसे चिकित्सा सुविधा मुहैया कराई होती तो यह स्थिति निर्मित नहीं होती और उसकी जान बच सकती थी। मृतक विमल ठाकुर के पिता ने कहा की वह घर का एकमात्र कमाने वाला सदस्य था। जिससे उनके घर का खर्च चल रहा था। लेकिन व्यवसाई की लापरवाही के कारण उनके 22 वर्षीय पुत्र विमल ठाकुर की मौत हो गई अब उनका गुजर-बसर कैसे होगा। विमल ठाकुर की मौत के बाद उसे घर व गांव में मातम पसर गया है।