breaking news New

उच्चतम न्यायालय समिति की रिपोर्ट साबित करती है कि ऑक्सीजन पर की गई राजनीति : नड्डा

उच्चतम न्यायालय समिति की रिपोर्ट साबित करती है कि ऑक्सीजन पर की गई राजनीति  : नड्डा

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा है कि मेडिकल ऑक्सीजन पर उच्चतम न्यायालय की समिति की रिपोर्ट साबित करती है कि दिल्ली में मेडिकल ऑक्सीजन पर राजनीति की गई। नड्डा ने यहाँ आभासी माध्यम से बिहार भाजपा राज्य इकाई की कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, कोरोना वैक्सीन के निर्माण से लेकर टीकाकरण अभियान तक हर कदम पर विपक्ष ने राजनीति की और जनता को गुमराह किया। विपक्ष ने कभी टीके की गुणवत्ता को लेकर जनता को गुमराह किया तो कभी इसमें परीक्षण पर सवाल उठाये, जो दुर्भाग्यपूर्ण है।
उन्होंने कहा कि कोविड की दूसरी लहर में जब ऑक्सीजन की कमी आई तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से न केवल ऑक्सीजन उत्पादन में लगभग 10 गुना वृद्धि हुई बल्कि जल, थल और नभ से इसकी हर जगह अबाध आपूर्ति भी सुनिश्चित की गई। 'ऑक्सीजन टैंकर्सÓ, 'क्रायोजेनिक टैंकर्सÓ और 'ऑक्सीजन सिलिंडरÓ पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहे। पीएम केयर्स निधि से देश भर के 1,500 जिलों में एक ऑक्सीजन संयंत्र लगाए जा रहे हैं।
नड्डा ने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों के कृतसंकल्पित परिश्रम से भारत ने नौ महीने में ही एक नहीं, बल्कि दो-दो वैक्सीन का निर्माण किया। विगत 21 जून से 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए मुफ्त वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत हो गई है। दिसंबर तक पर्याप्त मात्रा में हमारे पास वैक्सीन डोज उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के आधारभूत संरचना के क्षेत्र में भारत ने केवल एक साल में अभूतपूर्व प्रगति की। आज देश में 2500 कोविड जांच लैब्स हैं, रोजाना 25 लाख की जांच की क्षमता है। पीपीई किट्स, फेस मास्क, सेनिटाइजर, वेंटिलेटर्स, कोविड बिस्तर, ऑक्सीजन बिस्तर और आईसीयू बिस्तर की आज कहीं कोई दिक्कत नहीं है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा, श्री मोदी ने देश के 80 करोड़ लोगों को गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत पिछले वर्ष मार्च से लेकर नवंबर तक मुफ्त राशन उपलब्ध कराया। कोविड की दूसरी लहर को देखते हुए मार्च से लेकर नवंबर तक देश के 80 करोड़ नागरिकों को गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध करा रहे हैं। आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत आर्थिक चक्र को गतिशील करने हेतु 20 लाख रुपये की निधि निर्धारित की है।
उन्होंने कहा कि किसानों की सहायता का दंभ भरने वाले तो कई नेता हुए लेकिन किसानों के लिए जो कार्य श्री मोदी जी ने किया है, वह आजादी के 70 सालों में किसी ने भी नहीं किया। केंद्र सरकार ने कृषि बजट को 1.21 लाख करोड़ रुपये को बढ़ा कर 2.11 लाख करोड़ रुपये किया है। किसान सम्मान निधि के तहत 10 करोड़ से अधिक किसानों के खातों में अब तक 1.36 लाख करोड़ रुपये हस्तांतरित किये जा चुके हैं। किसान मान धन योजना के तहत किसानों को तीन रुपये के मासिक पेंशन की व्यवस्था की है। अब तक लगभग 22 करोड़ स्वायल हेल्थ कार्ड बने हैं। नीम कोटेड यूरिया से यूरिया का कालाबाजारी बंद हुई है। फसल बीमा योजना और प्रधानमंत्री सिंचाई योजना से किसान लाभान्वित हो रहे हैं। स्वामित्व योजना से ज़मीन में भ्रष्टाचार पर अंकुश लग रहा है और लोगों को अपनी जमीन का मालिकाना हक़ मिल रहा है। अब तक इस योजना से लगभग 7 लाख लोग लाभान्वित हुए हैं।
नड्डा ने कहा कि आयुष्मान भारत से अब तक लगभग 1.80 करोड़ लोग लाभान्वित हुए हैं और इस पर अब तक लगभग 23 हजार करोड़ रुपये खर्च किये जा चुके हैं। भाजपा अध्यक्ष ने कहा, इक्कीसवीं सदी में एक सकारात्मक विपक्ष के रूप में बिहार में कांग्रेस और राजद की भूमिका निरर्थक रही है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार निरंतर आगे बढ़ रहा है। इस कार्यक्रम में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल, पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री एवं बिहार प्रदेश के प्रभारी भूपेन्द्र यादव, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, नित्यानंद राय और अश्विनी चौबे, बिहार के उप-मुख्यमंत्री तारकेश्वर प्रसाद और रेणु देवी समेत कार्यसमिति के सदस्य आभासी तौर पर शामिल हुए।