breaking news New

चिटफंड में डूबे निवेशकों के 60 हजार से अधिक आवेदन जमा हुए

 चिटफंड में डूबे निवेशकों के 60 हजार से अधिक आवेदन जमा हुए

 धूल खा रहे आवेदनों का क्या होगा, स्थिति स्पष्ट नहीं है

जगदलपुर । बस्तर जिले में चिटफंड कंपनियों में निवेशकों के 60 हजार से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं। इन आवेदन पत्रों को बंडल में बांधकर रखा गया है। ठगी के शिकार निवेशक सरकार से उम्मीद लगाए बैठे हैं, लेकिन अभी तक सरकार की ओर से कोई स्पष्ट आदेश जारी नहीं किया गया है। निवेशकों से आवेदन लेकर उम्मीद की किरण तो दिखाया गया, लेकिन पैसे कब तक मिलेंगे इस विषय पर कोई भी कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं है।

जिले के अलग-अलग थानों में चिटफंड कंपनियों के खिलाफ 06 मामले दर्ज हैं, लेकिन अब तक कंपनी से निवेशकों की राशि नहीं मिली है। सभी मामलों में पुलिस की जांच जारी है। कुछ कंपनी के लोगों पर कार्रवाई की गई है तो कुछ के खिलाफ पुलिस के खिलाफ सबूत कम है।

प्रदेश सरकार की ओर से 02 से 06 अगस्त तक आवेदन जिला कार्यालय में मंगाए गए थे। निवेशकों की बढ़ती संख्या को देखकर सरकार ने आवेदन की अंतिम तिथि को बढ़ाकर 20 अगस्त कर दिया था। 60 हजार आवेदन जमा होने के बाद चिटफंड कंपनियों से ठगे गए निवेशकों के आवेदन सरकारी कार्यालय में धूल खा रहे हैं। इन आवेदनों का क्या होगा, अब तक स्थिति स्पष्ट नहीं है। प्रशासनिक अधिकारियों को भी आगे की कार्रवाई के किए शासन के आदेश का इंतजार है।