breaking news New

आखिर प्रशासन लिपिक पर मेहरबान क्यों.....आज तक नहीं हुईं कोई कार्यवाही

आखिर प्रशासन  लिपिक पर मेहरबान क्यों.....आज तक नहीं हुईं कोई कार्यवाही

कोरिया, 22 दिसंबर। कोरिया जिले के खडगवा में महिला बाल विकास विभाग परियोजना में एक से बढकर एक कारनामे उजागर हो रहे हैं वो भी वर्ष 2014--15 के ही प्रकरण है अभी हाल ही में एक मामला एन आर सी के बच्चों को पौष्टिक आहार मूंग के लड्डू वितरण में किया गया फर्जी वाडे की जाच पूरी नहीं हुई और एक मामला फरवरी वर्ष 2014--15 के तत्कालीन लिपिक राम अवतार यादव का सामने आ गया है ।

इस परियोजना में पदस्थ वर्ष2014--15 में तत्कालीन लिपिक राम अवतार यादव के द्वारा एक और फर्जी वाडा किये जाने की जानकारी प्राप्त हुई है ये मामला भी सूचना के अधिकार के से प्राप्त हुई हैं ऐसा ही एक मामला महिला बाल विकास विभाग खडगवा के माह मार्च2015का मानदेय राशि जमा करने दिनांक23/4/2015  को चेक क्रमांक 016543 मे आगनबाड़ी कार्य कर्त्ताओ का मानदेय क्रमांक  1 से 189 तक के  मानदेय की कुल राशि 402529/-- शाखा प्रबंधक ग्रामीण बैंक बचरा पोडी मे जमा किया गया था, जिसकी मानदेय सूची के क्रमांक 144में सोनमती/छक्के लाल रोहिनापारा खाता क्रमांक 70009454933 के खाते में 1150/--की राशि जमा किया गया है और उसी सूची के क्रमांक 158 सोनमती/हुबलाल पलेलपारा भरदा खाता क्रमांक 70009454933 के खाते मे 16000/-- सोलह हजार रुपये की राशि जमा किया गया है जबकि  नाम एक है और पति का नाम अलग है और दोनों का सथल एवं पता भी अलग है मगर दोनों का खाता क्रमांक भी एक हैं और एक ही खाते से राशि भी अलग अलग जमा हुई है जानकारी प्राप्त होने के बाद जब इसकी जाच की गई तो खडगवा महिला बाल विकास परियोजना में इस नाम की कोई भी आगनबाड़ी  कार्य कर्ता मिनी आगनबाड़ी कार्य कर्ता और सहायिका कि पदस्थापना नहीं हैं जिसका इस  सूची क्रमांक158 सोनमती/हुबलाल पटेल पारा भरदा नाम का कोई भी ना ही केन्द्र है और ना ही कोई आंगनबाड़ी कार्य कर्ता की नियुक्ति का प्रमाणित नहीं हुआ और इस तत्कालीन लिपिक राम अवतार यादव के द्रारा इस फर्जी आगनबाड़ी कार्य कर्ता के नाम से खाता क्रमांक 70009454933 मे पिछले कई वर्षो से राशि का आहरण किया जा रहा था। 

सूचना के अधिकार से प्राप्त जानकारी से कलेक्टर कोरिया से इस तत्कालीन लिपिक  वर्ष 2013--14 2014--15 2015--16  से लेकर इसकी महिला बाल विकास परियोजना की सभी संचलित योजनाओं आगनबाड़ी कार्य कर्ताओ के मानदेय यात्रा भत्ता की राशि से संबंधित कैश बुक की वर्ष वार जाच कराई  जाए तो इस तत्कालीन लिपिक राम अवतार यादव के द्रारा लाखों रुपये किए गए फर्जी वाडे का खुलासा होगा जिसके जाच कर कार्रवाई कराने की मांग की जा रही है।जिससे  हो रहे भ्रष्टाचार पर अंकुश लग सके।

अभी तक वर्ष213-14से 2015-16 तक की महिला बाल विकास परियोजना खडगवा से सूचना के अधिकार से जितनी भी जानकारी प्राप्त हुई हैं उन सब में लाखों रुपये के भ्रष्टाचार और फर्जी वाडा किया जाना भी प्रमाणित होने के बाद भी तत्कालीन लिपिक राम अवतार यादव को पुनः मनेद्रंगढ महिला बाल विकास परियोजना का वित्तीय प्रभार दे दिया गया है, जबकि वित्तीय प्रभार मे रहते हुए वित्तीय अनियमितता करने के संबंध में कई महिनों तक निलंबित रहने के बाद और राशि गबन करने का पाच कंडिका का आरोप तत्कालीन कलेक्टर के द्रारा दिनांक 10/7/2019  गबन का दोषी सिध्द किया था की उससे पहले दिनांक26/4/2019को ततकालीन लिपिक राम अवतार यादव के द्रारा खडगवा महिला बाल विकास परियोजना के खाता क्रमांक 2358043964 मे 1227690/--की राशि जमा कर लिपिक ने  अपने ऊपर लगा आरोप भी सिध्द कर दिया कि उसने खडगवा परियोजना में रहते हुए मूंग दाल लड्डू की राशि का गबन किया था।

 उसके बाद भी विभाग के अधिकारी इस तरह भ्रष्टाचारीओ को मूल पद पर पदस्थ कर भ्रष्टाचार को बढावा दे रहे हैं।