breaking news New

कोरोना से सावधानी बरतने की नसीहत देते हुए PM ने कहा कि लापरवाही हो सकती है खतरनाक

 कोरोना से सावधानी बरतने की नसीहत देते हुए PM ने कहा कि लापरवाही हो सकती है खतरनाक
 वाराणसी !  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं राज्य के सभी निवासियों की सराहना की तथा उन्हें सावधानी बरतने की नसीहत देते हुए कहा कि लापरवाही करने पर कभी भी स्थिति खतरनाक हो सकती है।
उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गुरुवार को 1583 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना के मामले भले भी कम हो गये हैं, लेकिन खतरा अभी बना हुआ है। इसलिए साफ-सफाई के साथ-साथ कोविड-19 से संबंधित सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना चाहिए।
श्री मोदी ने कहा कि बीते कुछ महीने हम सभी के लिए बहुत मुश्किल भरे रहे हैं। कोरोना वायरस के बदले हुए और खतरनाक रूप ने पूरी ताकत के साथ हमला किया था, लेकिन काशी सहित, यूपी ने पूरे सामर्थ्य के साथ इतने बड़े संकट का मुकाबला किया।
प्रधानमंत्री ने जनसभा को संबोधित करने के बाद काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में नवनिर्मित 100 बिस्तरों के मातृत्व एवं शिशु शाखा का अवलोकन किया। उन्होंने अस्पताल के चिकित्साकर्मियों से संवाद कर उनके कोविड से लड़ने में किये गये प्रयासों सराहना की तथा कोविड के संभावित खतरों के मद्देनजर उनकी तैयारियों के बारे में जाना।
बीएचयू के आईआईटी मैदान में आयोजित सभा में उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल के गत सात वर्षों के दौरान लगातार स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने का कार्य चल रहा है। इसी का नतीजा है कि काशी नगरी आज पूर्वांचल का बहुत बड़ा मेडिकल हब बन रही है। जिन बीमारियों के इलाज के लिए कभी दिल्ली और मुंबई जाना पड़ता था, उसका इलाज आज यहां उपलब्ध है।
उन्होंने कोरोना से निपटने में उत्तर प्रदेश के प्रयास उल्लेखनीय बताते हुए कहा, “मैं काशी के अपने साथियों का, यहां शासन-प्रशासन से लेकर कोरोना योद्धाओं की संपूर्ण टीम का विशेष रूप से आभारी हूं। आपने दिन-रात जुटकर जिस प्रकार काशी में व्यवस्थाएं खड़ी कीं, वो बहुत बड़ी सेवा है।”
श्री मोदी ने कहा कोरोना के संभावित खतरों के मद्देनजर स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने का कार्य तेजी से चल रहा है। आज वाराणसी में अन्य परियोजनाओं के साथ 14 ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण किया गया है। उत्तर प्रदेश में ऐसे 550 और प्लांट बनाने का कार्य चल रहा है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना से निपटने एवं विकास कार्यों में कड़ी मेहनत कर रहे हैं। वह खुद वाराणसी में बार-बार निरीक्षण करते हैं। इसी प्रकार के प्रयास वह राज्य के अन्य जिलों में लगातार कर रहे हैं।