breaking news New

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन का प्रदेश व्यापी आयोजन

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन का प्रदेश व्यापी आयोजन

सत्कार, अधिकार एवं प्रतिकार दिवस के रूप में मनाया गया राज्य स्थापना दिवस 

जगदलपुर, 2 नवंबर। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन द्वारा जिले के सभी ब्लाकों में 1 नवंबर को शिक्षक सत्कार , अधिकार एवं प्रतिकार दिवस के रूप में मनाया गया । जगदलपुर बस्तर हाई स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन हुआ । जिसमें प्रांतिय उपाध्यक्ष प्रवीण श्रीवास्तव ने कहा कि शिक्षा जगत से आज शिक्षाकर्मी रूपी काला अध्याय का आज अंत हुआ । लंबे संघर्ष के बाद आज सभी साथियों का संविलयन हो गया । आज संविलियन हुए साथियों का सत्कार किया गया । जिला अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने बताया कि संविलियन के बाद भी अपने अधिकारों के लिए संघर्ष जारी है जिसमें प्रमुख रूप से कमोन्नति , पदोन्नति एवं वेतन विसंगति शामिल है । जिला उपाध्यक्ष सुधीर दुबे ने पुराने संघर्ष को याद दिलाते कहा की संघ की एकजुटता ही हमारी पहचान है । प्रांतीय महिला प्रतिनिधि कमला शर्मा एवं जिला महिला प्रमुख भूमिका निषाद ने कहा की हमें नई पेंशन योजना का व्यापक रूप से प्रतिकार करना है एवं पुरानी पेंशन योजना बहाली हेतु प्रयास करना है । कार्यक्रम का संचालन ब्लाक अध्यक्ष मनीष ठाकुर ने किया । 


 सत्कार : 1 नवंबर से समस्त शिक्षाकर्मियों का संविलियन होकर नियमित शिक्षक बन गए । जिसके तहत पवन , सतीश , मुकेन्द्र एवं एकता अहीर को संविलयन होने पर उनका सत्कार किया गया । 

अधिकार : - कमोन्नति , पदोन्नति , वेतन विसंगति , अनुकम्पा नियुक्ति , लंबित महंगाई भत्ता की मांग सरकार से किया गया ।

 प्रतिकार :  1 नवंबर 2004 को ही पुरानी पेंशन योजना को बंद कर छग में नई पेंशन योजना लागू किया गया था । अतः इसका प्रतिकार कर पुरानी पेंशन योजना की मांग किया गया ।

 कार्यक्रम में कुबेरचन्द्र देहुरी , हरेन्द्र राजपूत , सचिन कारेकर , मनीष अहीर , विकास साहू , चन्द्रशेखर जैन , ओमप्रकाश पटेल , सुनील बघेल, रामप्रसाद ठाकुर , सतीश , संगीता कौर , मालती साव , ज्योत्सना पानी , खिलेश्वरी उर्वशा , सुनिता दास , आरती सिंह मौजूद थे । कार्यक्रम में सामाजिक दूरी एवं संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखा गया ।