breaking news New

फर्जी कमर्शियल टैक्स ऑफिसर बन ठगी करने वाले दो लोग गिरफ्तार

फर्जी कमर्शियल टैक्स ऑफिसर बन ठगी करने वाले दो लोग गिरफ्तार

लखनऊ। पीजीआई कोतवाली पुलिस ने बीती देर रात चेकिंग के दौरान दिल्ली नंबर की नीली बत्ती लगी और भारत सरकार लिखी गाड़ी को संदिग्ध मान कर रोक लिया, उसमें बैठे लोगों ने अपने को वाणिज्य कर अधिकारी बताते हुए पुलिस को अर्दब में लेने की कोशिश की,पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। इंस्पेक्टर पीजीआई आनंद प्रकाश शुक्ल ने बताया कि, पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में अपना नाम रितेश उपाध्याय, और अखण्ड प्रताप सिंह,बताया है, अपने को कभी वाणिज्य कर अधिकारी, और कभी इनकम टैक्स विभाग का असिस्टेंट कमिश्नर बताते हैं। दोनो आरोपी नीली बत्ती लगी मारुति डिजायर से कोरोना की उपयोगी दवाइया और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी  करते हैं। जांच में पता चला है कि दो दिन पहले इनके गिरोह के कुछ साथियों को गाजीपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। कई इंजेक्शन बरामद किए थे। आरोपियों से पूछताछ के बाद से ही पुलिस इन दोनों फ र्जी अधिकारियो की तलाश में थी। इनसे बड़े खुलासे की उम्मीद है। इस्पेक्टर  पीजीआई आनंद प्रकाश शुक्ल ने बताया कि, उप निरीक्षक अजीत सिंह, और पीजीआई पुलिस टीम ने  गिरफ्तारी की। और कार को कस्टडी में ले लिया है।