breaking news New

Breaking : जून 2022 में पहली विश्व योगासन चैम्पियनशिप की मेज़बानी करेगा भारत

Breaking : जून 2022 में  पहली विश्व योगासन चैम्पियनशिप की मेज़बानी करेगा भारत

 भुवनेश्वर।  आज़ादी के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में भारत अपने सांस्कृतिक खेल योगासन को विश्वस्तरीय मंच पर ले जाने के लिए तैयार है। नेशनल योगासन स्पोर्ट्स फेडरेशन, (जिसे भारत सरकार के खेल एवं युवा मामलों के मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त है 1

योगासन के विकास द्वारा फिटनेस, प्रतिस्पर्धा, स्वास्थ्य, कल्याण एवं विकास को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयासरत है। भुवनेश्वर में 11 से 13 नवम्बर 2021 के बीच ओडिशा सरकार के सहयोग से एनवायएसएफ द्वारा आयोजित भारत की पहली ऑफलाइन नेशनल योगासन स्पोर्ट्स चैम्पियनशिप के उद्घाटन समारोह के दौरान सभा को सम्बोधित करते हुए उदित शेठ, प्रेज़ीडेन्ट, एनवायएसएफ ने कहा, ‘‘दुनिया के समक्ष अपने सांस्कृतिक खेल का प्रदर्शन करने के उद्देश्य से जून 2022 में भारत पहली विश्व योगासन चैम्पियनशिप की मेज़बानी करने जा रहा है।’’

भुवनेश्वर में पहली फिज़िकल नेशनल योगासन स्पोर्ट्स चैम्पियनशिप के उद्घाटन समारोह के उपलक्ष्य में युवाओं को योगासन खेलों की और आकर्षित करने पर बल देते हुए डॉ जयदीप आर्य, महासचिव, एनवायएसएफ ने कहा, ‘‘स्वास्थ्य एवं फिटनैस पहली प्राथमिकता होनी चाहिए और योग से बेहतर कोई अनुशासन नहीं है। योगासन को स्पोर्ट के रूप में बढ़ावा देना एक उत्कृष्ट विचार है, इसके माध्यम से हम दुनिया भर के युवाओं को लाभान्वित करना चाहते हैं। एनवायएसएफ में हम योगासन को बढ़ावा देने और प्रतिस्पर्धी खेल में ऊँचे मानक स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

हमें खुशी है कि पहली ऑफलाइन नेशनल योगासन स्पोर्ट्स चैम्पियनशिप के लिए हमें ओडिशा सरकार के साथ काम करने का मौका मिला है। भुवनेश्वर में उपलब्ध खेल सुविधाएं इस आयोजन के लिए उत्कृष्ट हैं। हम आशा करते हैं कि बेहद जल्द ही हमारे योगासन खेल के सितारे 'खेलो इंडिया यूथ गेम्स' , 'विश्व योगासन चैम्पियनशिप' जैसे महान खेल मंचों पर अपनी प्रतिभा का परचम लहरायेंगे ।"

ओडिशा को भारत में विभिन्न प्रकार के खेलों को बढ़ावा और समर्थन देने के लिए जाना जाता है, जो अब भुवनेश्वर में पहली ऑफलाइन नेशनल योगासन स्पोर्ट्स चैम्पियनशिप का आयोजन कर रहा है। इस चैम्पियनशिप की शुरूआत आज एक भव्य उद्घाटन समारोह के साथ हुई, जिसमें 30 राज्यों से 560 प्रतिभाशाली युवा एथलीट्स ने हिस्सा लिया, जो 50 पदकों के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगे।

आर विनील कृष्णा, कमिश्नर एवं सचिव, खेल एवं युवा सेवा विभाग, ओडिशा ने उद्घाटन समारोह के दौरान एथलीट्स को प्रोत्साहित और प्रेरित किया। उदित शेठ, अध्यक्ष, एनवायएसएफ, डॉ जयदीप आर्या, एनवायएसएफ के महासचिव, डॉ प्रफुल्ल कुमार मिश्रा,  उमंग डॉन और डॉ सस्मिता समंता (केआईआईटी युनिवर्सिटी) भी इस अवसर पर मौजूद थे।

आर. विनील कृष्णा, कमिशनर एवं सचिव, खेल एवं युवा सेवा विभाग, ओडिशा ने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि हम ओडिशा में पहले नेशनल योगासन स्पोर्ट्स चैम्पियनशिप का आयोजन करने जा रहे हैं। हम खेलों को महत्व देते हैं और युवाओं में फिटनेस को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत हैं। योगासन फिटनेस और वेलनेस का सबसे अच्छा माध्यम है। मुझे खुशी है कि भारत और दुनिया भर के युवाओं में योग को बढ़ावा देने के लिए इस विश्वस्तरीय मंच का निर्माण किया गया है।’’

योगासन को मेल एवं फीमेल कैटेगरी में खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021 में शामिल किय गया है। भारत सरकार की मान्यता के तहत एनवायएसएफ सभी कैटेगरीज़ यानि सीनियर, जूनियर, सब-जूनियर तथा इंटरनेशन खेल आयोजनों में हिस्सा लेने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।

एनवायएसएफ स्थायी एवं सतत विकास द्वारा योगासन को ब्राण्ड के रूप में विकसित करने के दृष्टिकोण के साथ कार्यरत है, ताकि इसे आने वाले समय में एथलीट्स, अधिकारियों और खेल जगत के लिए प्रतियोगिता के रूप में स्थापित किया जा सके।