breaking news New

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की शिकस्त : नस्लवाद की हार ही नहीं बल्कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की निजी पराजय

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की शिकस्त : नस्लवाद की हार ही नहीं बल्कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की निजी पराजय

नयी दिल्ली।  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की शिकस्त दरअसल संकीर्णतावाद और नस्लवाद की हार ही नहीं बल्कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी निजी पराजय है।

पार्टी ने कहा कि इस हार ने दुनिया के राजनीतिक, आर्थिक एवं सामाजिक समीकरणों की एक नई राह खोल दी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता अतुल कुमार अनजान ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप की हार और डेमोक्रेटि पार्टी के जो बिडेन की जीत संकीर्णता और नस्लवादी रुझान की हार है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने खुलकर अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में दखलंदाजी की। उन्होंने अमेरिकी शहर ह्यूस्टन की रैली में ट्रंप की जीत के लिए अपील ही नहीं कि बल्कि सैकड़ों करोड़ रुपया खर्च कर अहमदाबाद बुला कर ‘नमस्ते ट्रंप’ का आयोजन किया l

पार्टी के राष्ट्रीय सचिव  अनजान ने कहा कि खुलेआम प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी भारतीय जनता पार्टी की विदेश इकाइयों ने हवन , पूजा इत्यादि का आयोजन कर ट्रंप की जीत के लिए अमरीकी भारतवंशियों से खुलकर मदद की अपील की। वास्तविकता में  ट्रंप की हार  नरेंद्र मोदी की व्यक्तिगत निजी हार है।