breaking news New

कांटा-बाट की पूजा अर्चना कर खरीदी कार्य का शुभारंभ, किसानों में उत्साह लेकिन बारदाना को लेकर आक्रोश

कांटा-बाट की पूजा अर्चना कर खरीदी कार्य का शुभारंभ,  किसानों में उत्साह लेकिन  बारदाना को लेकर आक्रोश


हेमन्त मिश्रा

बलौदाबाजार। राज्य सरकार की घोषणा के अनुरूप जिले में आज से धान खरीदी शुरू हो गई। स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं किसानों ने कांटा-बाट की पूजा अर्चना कर खरीदी कार्य का शुभारंभ किया। पहले ही दिन के लिए 3478 किसानों का टोकन कटा है।

उनसे लगभग 82 हजार क्विंटल धान खरीदा जा रहा है। यह कार्य लगभग दो माह तक चलेगा।  धान खरीदी को लेकर किसानों मे  काफी उत्साह देखा जा रहा है वही बारदानो को लेकर सरकार के प्रति काफी आक्रोश भी है. इस बात को लेकर पलारी विकासखंड- के ग्राम सभा मे तीखी बहस होने की जानकारी मिल रही है.


प्रारंभ  के दिनों में छोटे एवं सीमांत किसानों के धान की खरीदी की जा रही है। पूरे परिवार के लोग उपार्जन केन्द्र पहुंचकर उत्साह के साथ अपने धान का तौल करवा रहे हैं। इस बीच कलेक्टर  सुनील कुमार जैन ने पलारी, बलौदी एवं अमेरा के धान उपार्जन केन्द्रों का दौरा किया। बलौदी  धान खरीदी केन्द्र अव्यवस्था पर कलेक्टर ने नाराजगी भी जताई है तथा कमियों को तत्काल सुधारने के निर्देश दिए।


अमेरा के श्री रामचंद साहू ने पहले ही दिन अपना पूरा धान बेच दिया। उनकी लगभग साढ़े तीन एकड़ जमीन है। उन्होंने 137 कट्टा धान बेचा है। कुछ बारदाने वे स्वयं लाये थे, बाकि समिति की ओर से उन्हें प्रदान किया गया। समारू साहू ने कहा कि उपार्जन केन्द्र में कर्मचारियों से पूरा सहयोग मिल रहा है। कहीं कोई परेशानी नहीं हैं। एक एकड़ 65 डिस्मील जमीन 60 कट्टा धान उन्होंने बेचा है।


महिला किसान सुनीता पटेल भी राज्य सरकार की धान खरीदी नीति से खुश है। उनकी 1 एकड़ 17 डिस्मिल कृषि भूमि है। सरना प्रजाति की 43 कट्टा धान उन्होंने विक्रय किया है।  ज्यादातर छोटे  किसानों का धान एक दिन मे बिक जा रहा है.