breaking news New

कारोबारी पिता-पुत्र ने की आत्महत्या, बिज़नेस में नुकसान का सदमा बर्दाश्त ना कर सके, दीवाली पर पिता—पुत्र में हुई थी बहस

कारोबारी पिता-पुत्र ने की आत्महत्या, बिज़नेस में नुकसान का सदमा बर्दाश्त ना कर सके, दीवाली पर पिता—पुत्र में हुई थी बहस

राजनादगांव. स्थानीय कारोबारी ने तथा उसके बेटे ने खुदकुशी करके जान दे दी. बेटे ने पहले फांसी लगाई और फिर उसकी मौत की खबर सुनकर पिता ने भी ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी.

घटना राजनांदगांव के बंसतपुर थाना क्षेत्र के कामठी इलाके की बताई जाती है. 32 वर्षीय कारोबारी विकास अग्रवाल और पिता गोविंद अग्रवाल ने एक ही दिन में आत्महत्या कर ली। दरअसल दिवाली के दिन विकास ने पापा से पैसे लेकर अपने बिजनेस में इन्वेस्ट किया था। उसको बिज़नेस में बहुत नुकसान हो गया। उसके बाद उसने पिता से रूपये मांगे तो पिता ने देने से इंकार कर दिया.

दीवाली के दिन दोनों में बहस हुई लेकिन पिता ने पैसे नही दिए. उसके बाद नाराज बेटे ने गोदाम में जाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. घंटों बीतने के बाद जब पिता को बेटे की जान देने की खबर पता चली तो  वे व्यथित हो गए और उन्होंने भी गौरी नगर रेलवे फाटक के पास ट्रेन से कटकर जान दे दी. पुलिस मामले की जांच कर रही है. परिवार में शोक का मातम है.