हाथरस गैंगरेप केस : पीएम मोदी के निर्देश के बाद सीएम योगी का ऐलान, 'फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलेगा केस, छह महीने के अंदर मिलेगा न्याय

हाथरस गैंगरेप केस : पीएम मोदी के निर्देश के बाद सीएम योगी का ऐलान, 'फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलेगा केस, छह महीने के अंदर मिलेगा न्याय

हाथरस गैंगरेप कांड में पीड़िता की मौत और उसके बाद परिवार की मर्जी के खिलाफ जबरन अंतिम संस्‍कार के आरोप पर चौतरफा घिरी यूपी सरकार ने इस मामले पर चुप्‍पी तोड़ी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले में एसआईटी गठित करने का ऐलान किया है। गृह सचिव की अध्‍यक्षता वाली इस तीन सदस्‍यीय टीम में डीआईजी चंद्र प्रकाश और आईपीएस अधिकारी पूनम को सदस्‍य बनाया गया है।

सीएम ने पूरे घटनाक्रम पर सख्‍त रुख अख्तियार  करते हुए टीम को घटना की तह तक जाने के निर्देश दिए हैं। उन्‍होंने समयबद्ध ढंग से जांच पूरी कर रिपोर्ट देने के निर्देश भी दिए हैं। गौरतलब है कि इस मामले में चारों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। सीएम ने उनके खिलाफ फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मुक़दमा चलाकर जल्द से जल्द सजा दिलाने का भी आदेश दिया।

मुख्यमंत्री द्वारा हाथरस की घटना पर जांच हेतु तीन सदस्यीय सिट गठित की गई है जिसमें अध्यक्ष सचिव गृह भगवान स्वरूप एवं चंद्रप्रकाश, पुलिस उपमहानिरीक्षक श्रीमती पूनम, सेनानायक पीएसी आगरा सदस्य होंगे.

सूत्रों के मुताबिक देशभर में चल रहे आंदोलन के बाद अब पीएम नरेन्द्र मोदी ने सीएम योगी से बात की और उन्हें जल्द से जल्द इस प्रकरण में कार्रवाई करने के आदेश दिए. उसके बाद सीएम ने सिट बिठाने का ऐलान किया.