breaking news New

क्रेडा विभाग का प्लांट 2 माह से बंद , घरों में छाया अँधेरा, सर्प दंश से एक महिला की मौत जिम्मेदार कौन ?

 क्रेडा विभाग का प्लांट 2 माह से बंद , घरों में छाया अँधेरा, सर्प दंश से एक महिला की मौत जिम्मेदार कौन ?

सुरजपुर। जिले के नए क्रेडा विभाग के अफसर  के पद भार सम्भालने के बाद भी जिले के क्रेडा विभाग की स्थिति बद से बदतर है। जिले वासियों को केंद्र व राज्य सरकार से मिलने वाले योजनाओं का लाभ केवल कागजों में मिल रहा है। क्रेडा विभाग द्वारा कागजों में ही मेन्टेनेंस का कार्य किया जा रहा है तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में सौर ऊर्जा से आदिवासियो को मिलने वाले लाभ से वंचित रखा जा रहा है। बल्कि अंधेरे में जीवन बसर करने को मजबूर है। 

क्रेडा विभाग के खिलाफ कुछ महिलाओं ने हल्ला बोला है। मामला सुरजपुर जिले के ओड़गी विकाशखण्ड के चाँदनी बिहार क्षेत्र के समीप ग्राम रामगढ़ के गवटियां पारा के महिलाओं ने सामूहिक रूप से खड़े होकर शोशल मीडिया में वीडियो जारी कर बता रहे है कि उनके मोहल्ले गवटियां पारा में पिछले 2 माह से सौर ऊर्जा से बिजली की आपूर्ति बंद पड़ी हुई है। जिससे इस बरसात के मौषम में महिलाओं बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। महिलाएं आगे बताती है कि वे क्षेत्र पूरी तरह से आदिवासी बहुमूल्य क्षेत्र है। यहां के ज्यादातर ग्रामीण जमीन में सोते हैं। ऐसे में इस मौषम में सर्प, सहित जहरीले जीव जंतु का खतरा बना रहता है। साथ ही मोहल्ले में एक महिला को सर्प दंश कर दिया था जिसकी मौत हो गई है। उन्होंने उस मृत महिला का जवाबदेह कौन है ये प्रशासन से पूछा है। इसके साथ ग्रामीणों के बच्चों की पढ़ाई लिखाई, घर का कार्य, बगैर बिजली के नही हो पा रहा है।

आगे कहते है कि यहां के सौर ऊर्जा प्लांट में बैटरी 6 माह पूर्व क्रेडा विभाग के अफसर द्वारा पुरानी बैटरी लगाई गई थी। जिसकी शिकायत कई दफा क्रेडा विभाग के अफसरो से करके थक चुके है। उनका कहना है कि बैटरी वारंटी परेड है और हम कुछ नही कर सकते है। इस तरह से आप अंदाजा लगाइये कि किस तरह से क्रेडा विभाग भ्रष्टाचार में लिप्त है। बल्कि कागजो में मेन्टेन्टनेंस का कार्य किया जा रहा है।

जिले में नए प्रभारी क्रेडा विभाग के जिला अधिकारी सुजीत श्रीवास्तव के पदभार ग्रहण करते ही ठेकेदारों की मौज मानी जा रही है। विभाग में कार्य करने वाले ठेकेदार मनमानी तरीके से घटिया किश्म के बैटरी, सहित अन्य पाइप, मशीन लगा रहे है। और जिले के क्रेडा विभाग के प्रभारी ऑफिसर सुजीत श्रीवास्त बगैर फील्ड देखें, गुणवत्ता को ध्यान में दिए भुगतान करवा रहे है। इस समद्भ मे कुछ युवाओं द्वारा जिले से हटाने व निलंबन की कार्यवाही के लिए सीएम भुपेश बघेल को पत्र लिखेंगे। ईस सम्बद में क्रेडा विभाग के प्रभारी अधिकारी का पक्ष नही मिल पाया है।