4 दिनों में भारत में दोगुने हो गए कोरोना के मामले, 2000 के करीब पहुंची पीड़ितों की संख्या

4 दिनों में भारत में दोगुने हो गए कोरोना के मामले, 2000 के करीब पहुंची पीड़ितों की संख्या

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या में 4 दिनों में दोगुना इजाफा हुआ है। अकेले बुधवार को कोरोना पीड़ितों के 450 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं।अकेले तमिलनाडु में बुधवार को 110 नए मामले सामने आने आए हैं। देश में बुधवार देर रात तक कोरोना के कुल 1996 मामले सामने आ चुके हैं। यह आंकड़ा 4 दिनों पहले के 1000 मरीजों से लगभग दोगुना है।

मुंबई में 24 घंटे में 6 लोगों की मौत
मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना से पीड़ित 6 लोगों की मौत हुई है, हालांकि स्थानीय अधिकारियों ने केवल 2 मामलों की पुष्टि की है। महाराष्ट्र में कुल 33 नए मामले बुधवार को सामने आए हैं। राज्य में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 335 तक पहुंच गई है, जो देश में सबसे ज्यादा है। वहीं दिल्ली एक दिन में अब तक कम से कम 32 मामले सामने आ चुके हैं।

अन्य राज्यों में भी तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले
राजस्थान में 27, केरल में 24 और मध्य प्रदेश में बुधवार को 20 नए मामले सामने आए हैं। दिल्ली में मरीजों को बढ़ने की बड़ी वजह तमिलनाडु की तरह ही तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले लोग हैं। तबलीगी जमात के सदस्यों को राजधानी में अलग-अलग जगहों पर क्वारंटीन किया गया है। राजधानी में अब तक 152 मामले सामने आ चुके हैं।

दिल्ली में आंकड़ों में तेजी से उछाल की आशंका
अधिकारियों को आशंका है कि दिल्ली में मामले बढ़ सकते हैं, क्योंकि 536 तबलीगी जमात के सदस्यों में कोरोना के लक्षण मिले हैं। इन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कम से कम 6 डॉक्टर्स भी कोरोना पीड़ित मिले हैं, इनमें से ज्यादातर या तो कोरोना पीड़ितों के संपर्क में आए थे या फिर कहीं की यात्रा से आए हैं।

बिहार में अब तक कुल 24 कोरोना पीड़ितों का पता चला
उत्तर पूर्वी राज्य असम में पहला केस पता चलने के अगले दिन ही 12 नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं, वहीं तेलंगाना में भी 12 नए कोरोना के मरीजों की पता चला है। गुजरात में भी एक दिन में 13 मामले सामने आए हैं । बिहार में गया और नालंदा में कोरोना पीड़ित मिलने के बाद कुल आंकड़ा 24 हो गया है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में नए 7 कोरोना पीड़ित मिलने के बाद कोरोना पीड़ितों की संख्या 62 हो गई है।