breaking news New

सोनबरसा डायवर्सन रिनोवेशन प्रोजेक्ट पर काम शुरू, 3200 एकड़ क्षेत्र में हो सकेगी सिंचाई

 सोनबरसा डायवर्सन रिनोवेशन प्रोजेक्ट पर काम शुरू, 3200 एकड़ क्षेत्र में हो सकेगी सिंचाई

दुर्ग । कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे धमधा ब्लाक में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों का जायजा लेने पहुंचे। सबसे पहले वे सोनबरसा डायवर्सन पहुंचे। 1965 से बनी सोनबरसा डायवर्सन की नहरें अब काफी क्षतिग्रस्त हो गई हैं जिसकी वजह से क्षमता का दस फीसदी हिस्सा ही उपयोगी बचा है। इसमें अभी केवल 500 एकड़ क्षेत्र की सिंचाई हो पा रही है। इस डायवर्सन से लगभग 13 गाँवों को राहत देने सरकार ने इसके रिनोवेशन का प्रोजेक्ट तैयार किया है जिस पर काम आरंभ हो गया है। 18 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट से लगभग 3500 एकड़ कृषि भूमि सिंचित हो सकेगी। कलेक्टर ने आज निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। सिंचाई विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री बीजी तिवारी ने बताया कि इसकी ऊंचाई एक मीटर बढ़ाई जाएगी। नहरों की रिमाडलिंग की जाएगी और लाइनिंग कार्य किया जाएगा। इससे नहरों का जीर्णोद्धार होगा और सिंचाई क्षमता में खासी वृद्धि होगी। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक भी उपस्थित थे।

अहिवारा का गौठान ट्रैक में- कलेक्टर ने बीते दौरे में अहिवारा का गौठान देखा था। यहाँ अव्यवस्था पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की थी और एक सप्ताह के भीतर व्यवस्था ठीक करने के निर्देश दिये थे। अपने दौरे में कलेक्टर ने यहाँ का गौठान भी देखा। इस बार गौठान व्यवस्थित था। वर्मी टैंक में ठीक प्रकार से वर्मी कंपोस्ट बनाया जा रहा था। साथ ही गोबर की लकड़ी भी तैयार की जा रही है। सीएमओ ने बताया कि इसके विक्रय के लिए चर्चा कर ली गई है। सीईओ जिला पंचायत ने कहा कि इनका उपयोग शीतलहर के दौरान रैन बसेरों में भी करें।

गार्डन हुआ दुरूस्त- कलेक्टर ने बीते दौरे में धमधा में गार्डन की अव्यवस्था पर कड़ी नाराजगी जाहिर की थी। इस बार यहाँ गार्डन दुरूस्त कर दिया गया था। कलेक्टर ने यहाँ सौंदर्यीकरण के अन्य कार्यों के निर्देश भी दिये। इसके लिए तीन लाख रुपए भी दिये जाने के निर्देश दिये।

डीपीएस स्कूल के सामने लाइवलीहुड कालेज के लिए जमीन चिन्हांकित- कलेक्टर ने डीपीएस स्कूल के सामने लाइवलीहुड कालेज के लिए जमीन चिन्हांकित की। यहाँ पर छात्र-छात्राओं के लिए ट्राइबल हास्टल भी बनेंगे। कलेक्टर ने इस संबंध में पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को निर्देश दिये।

मंडी की प्रगति का कार्य भी देखा- कलेक्टर ने धमधा में निर्माणाधीन मंडी की प्रगति का कार्य भी देखा। इसे 9 करोड़ रुपए की लागत से बनाया जा रहा है। इसके बन जाने के बाद धमधा के सब्जी विक्रेताओं को काफी सुविधा मिलेगी। कलेक्टर ने यहाँ निर्माणाधीन सर्व समाज का भवन भी देखा।