breaking news New

अंतर्राज्यीय बसों की परिचालन सेवा 15 जून तक स्थगित

अंतर्राज्यीय बसों की परिचालन सेवा 15 जून तक स्थगित

भोपाल । प्रदेश की सीमा से लगे चार राज्यों महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के लिए अंतरराज्यीय बसों के परिचालन का स्थगन 15 जून तक के लिए फिलहाल बढ़ा दिया गया है। इस सम्बंध में सोमवार को परिवहन विभाग ने आदेश जारी कर दिए हैं। राज्य के सभी जिलों में संक्रमण कम हो गया है पर अनियंत्रित भीड़ से पुन: बढ़ सकता है। इसी को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है। राज्य के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि स्थगन की अवधि 7 जून से बढ़ा कर 15 जून 2021 तक कर दी गई है।

परिवहन मंत्री श्री राजपूत के निर्देश पर इस संबंध में चारों राज्यों के लिए पृथक-पृथक आदेश जारी किये गये है।  राज्य में कोरोना वायरस के  संक्रमण पर  प्रभावी रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए  लोकहित के लिए महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तरप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ की ओर जाने और वहां से आने वाली बसों का संचालन पूर्ण रूप से फिलहाल 15 जून तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

दरअसल परिवहन विभाग चाहता है कि यात्री बसों में अनलॉक की बजह से होने वाली भीड़ से अभी प्रदेश की जनता को बचाया जाय ताकि कोरोना का खतरा न बढ़ पाए। इसीलिए बसों के संचालन की तिथि को 15 जून तक बढ़ाया गया है।
सचिव राज्य परिवहन प्राधिकार एवं अपर परिवहन आयुक्त (प्रवर्तन)  मप्र अरविंद सक्सेना ने सोमवार 7 जून को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश के अनुसार अंतरराज्यीय अनुज्ञाओं एवं अखिल भारतीय पर्यटक अनुज्ञाओं से आच्छादित मध्यप्रदेश राज्य की समस्त यात्री बस वाहनों का महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश की सीमा में प्रवेश तथा इन राज्यों के यात्री बस वाहनों का मध्यप्रदेश की सीमा में प्रवेश 7 जून से बढ़ाकर 15 जून तक स्थगित किया गया है।