breaking news New

आसान नहीं कांटे की सेज जैसी होती सेवा : गुरुद्वारा के सेवादारों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल

आसान नहीं कांटे की सेज जैसी होती सेवा :  गुरुद्वारा के सेवादारों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल

राजनांदगांव। निःस्वार्थ सेवा का काम आसान नहीं है। सेवा भी एक तरह से कांटे की सेज जैसी होती है, लेकिन इसका पुण्य बहुत मिलता है। ऐसे ही सेवा धर्म का पालन करने वाले गुरुद्वारा बंदीछोड़ पतशाही तुमड़ीबोड के सेवादार ज्ञानी नरिन्दर सिंह ने सड़क हादसे में घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। 

उनकी मदद से तुमड़ीबोड़ के पास बाइक से गिरे दो लोगों का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में करवाया गया। गौरतलब है कि घायल युवक बाइक में उरईडबरी से कुसुमकसा जा रहे थे।

इसी दौरान कार से अचानक टकरा जाने की वजह से बाइक सवारों के घुटने और हाथ के अंगूठे में हल्की चोंट लगी है। हालांकि, इलाज के बाद अब वे दोनों स्वस्थ है और गुरुद्वारा जाकर उन्होंने मत्था भी टेका। 

उन्होंने कहा कि गुरुद्वारे के सेवादारों द्वारा सेवाकार्य प्रशंसनीय है। बताते चलें कि गुरुद्वारे के सेवादार पूर्व में भी कई लोगों का इलाज करवा चुके है।