breaking news New

इलेक्ट्रिक व्हीकल को मिलेगा बढ़ावा मोदी कैबिनेट का बैटरी स्टोरेज को लेकर बड़ा फैसला

 इलेक्ट्रिक व्हीकल को मिलेगा बढ़ावा मोदी कैबिनेट का बैटरी स्टोरेज को लेकर बड़ा फैसला


नई दिल्ली ।   केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को बैटरी स्टोरेज उत्पादन को बढ़ावा देने वाले 18,100 करोड़ रुपये के प्रोडक्शन लिंक इंसेंटिव को आज ने मंजूरी दे दी. इससे 50,000 मेगावाट का उत्पादन भारत में बढ़ने का अनुमान है

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस निर्णय की जानकारी देते हुए कहा कि पीएम मोदी की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की बैठक हुई. बैठक में देश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक अहम निर्णय हुआ है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बैटरी स्टोरेज बहुत महत्वपुर्ण. आज 20 हजार करोड़े के बैटरी स्टोरेज इक्विपमेंट हम आयात करते हैं. आज जो नया पीएलआई घोषित किया है उसकी वजह से यह आयात कम होगा साथ ही भारत में उत्पादन भी होना शुरू होगा.

जावड़ेकर ने कहा कि इससे इलेक्ट्रिकल व्हीकल्स को बहुत बढ़ावा मिलेगा. लंबे समय तक चलने वाली और जल्दी चार्च होने वाली बैटरी आज के समय की जरुरत है. इसके अलावा सोलर पवार प्लांट भारत में बहुत लगे हैं. इनसे करीब 136000 मेगावट सोलर बिजली का निर्माण हो रहा है लेकिन इस बिजली का दिन में ही इस्तेमाल कर सकते हैं रात में नहीं. ग्रिड होता है उसमें कभी बैलेंसिंग करना है तो अनेक काम करने पड़ते हैं अगर बैटरी स्टोरेज होगा तो यह काम आसान होगा. बैटरी स्टोरेज शिपिंग और रेलवे में इसका बहुत उपयोगी साबित होगा. बैटरी स्टोरेज का डीजल जनरेटेर का भी विक्लप होगा.