breaking news New

राष्ट्रीय सेवा योजना राज्य स्तरीय तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन

राष्ट्रीय सेवा योजना राज्य स्तरीय तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन

कोरिया। राष्ट्रीय सेवा योजना राज्य स्तरीय तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन प्रयोग आश्रम तिल्दा रायपुर में किया गया। इस आयोजन का उद्देश्य समाज की आवश्यकता के अनुरूप बदलते प्रतिमान एवं मूल्यों को लेकर एनएसएस की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए नियमों में कुछ बदलाव और कुछ नवाचार को जोड़ने पर चिंतन किया गया।

इस शिविर में पुरस्कार एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के विभिन्न आयामों के बारे में भी चर्चा की गई। राज्य एनएसएस अधिकारी डॉ. समरेंद्र सिंह के द्वारा कार्यक्रम अधिकारियों के चयन तथा उनके द्वारा कर्तव्य निर्वहन के विषय में चर्चा की गई। राष्ट्रीय सेवा योजना में नि:स्वार्थ भाव से किस प्रकार सेवा की जा सकती है। इस पर भी चर्चा की गई। मनुष्य अध्यात्म की ओर से आकृष्ट होता है और एक निश्चित समय पश्चात उन्हें ज्ञान की प्राप्ति इस प्रकार से होती है इस पर भी चिंतन किया गया। शिविर में स्वयंसेवकों ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति की प्रस्तुति दी। 


सुपर 70 प्रतिभागियों की उपस्थिति में संपन्न चिंतन शिविर कार्यक्रम में एनएसएस राज्य संपर्क अधिकारी डॉ.समरेंद्र सिंह, संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय अम्बिकापुर से कार्यक्रम समन्वयक डॉ.अनिल कुमार सिन्हा, कोरिया जिले से कार्यक्रम अधिकारी हरिकांत अग्निहोत्री शास. उ. मा. विद्यालय मनसुख और स्वयंसेवक बिहारी लाल साहू शास. रामानुज प्रतापसिंह देव पी.जी. महाविद्यालय बैकुंठपुर ने कोरिया एवं संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व किया। शिविर में राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों के  कार्यक्रम समन्वयक, जिला संगठक, चयनित कार्यक्रम अधिकारी तथा उत्कृष्ट स्वयंसेवक स्वयंसेविका सम्मिलित हुए।