breaking news New

स्थानीय खिलाडिय़ों के लिए एनएमडीसी का तुगलगी फरमान : बैडमिंटन एशोसिएशन

स्थानीय खिलाडिय़ों के लिए  एनएमडीसी का तुगलगी फरमान : बैडमिंटन एशोसिएशन

दंतेवाड़ा। जिले के एनएमडीसी बचेली कॉम्प्लेक्स द्वारा एक तुगलगी फरमान जारी किया गया गया है, जिसमे बीआरसी क्लब में इंडोर खेल जैसे बैडमिंटन, टीटी व व्यायाम शाला में एनएमडीसी कर्मचारी/आश्रितो के लिए खेलने की अनुमति प्रदान की गई है। इस फरमान के अनुसार बचेली में रहने वाले युवा खिलाड़ी हो या कहीं और के खिलाड़ी हो किसी को भी बीआरसी में खेलने की अनुमति नही दिया जा रहा है। ऐसे खिलाडिय़ों को खेलने से रोक कर एनएमडीसी यहां के स्थानीय खिलाडिय़ों के साथ भेदभाव कर रही है, जिसे लेकर दंतेवाड़ा बैडमिंटन एशोसिएशन ने भी अपना कड़ा विरोध दर्ज करवाया है। 

बचेली नगर के लोगों का कहना है कि ऐसा फरमान निकाल कर एनएमडीसी यहां के स्थानीय खिलाडिय़ों के साथ छलावा करने के साथ-साथ उनके अंदर के खेल प्रतिभा को दबाने का भी प्रयास कर रही है। बता दे कि बैडमिंटन के कई ऐसे खिलाड़ी हैं। जिन्होंने अपने खेल के माध्यम से बचेली का ही नहीं पूरे दंतेवाड़ा व बस्तर का नाम भी रौशन किया है। जिला कलेक्टर से एनएमडीसी के इस दोहरे चरित्र के बारे में अवगत कराने की बात कही है, जहां एनएमडीसी सीएसआर मद का हवाला देकर यहां के स्थानीय लोगो के हितों की बात करती है। वही यहां के राष्ट्रीय स्तर के खिलाडिय़ों को खेलने से रोकना एनएमडीसी के दोहरे चरित्र को प्रदर्शित करता है। गौरतलब है कि हाल ही में धुरली में जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा तीन दिवसीय खेल का आयोजन करवाया गया था। शासन एंव जनप्रतिनिधि खेल प्रतिभागियों को उभारने के लिए प्रयासरत है, इसके ठीक विपरीत एनएमडीसी खेल को बढ़ावा देने की बजाए दबाने का कुप्रयास कर रही हैं, जिसका बचेली नगर के लोग एनएमडीसी के इस फरमान को लेकर निन्दा कर रहे हैं।