breaking news New

मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व ने राजनीति को राष्ट्रनीति में बदला: नकवी

मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व ने राजनीति को राष्ट्रनीति में बदला: नकवी

रामपुर .भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व और पक्के इरादों ने राजनीति के दकियानूसी तौर तरीकों को दरकिनार कर ‘राजनीति को राष्ट्रनीति’ और ‘शासन को सुशासन’ में तब्दील कर दिया है।

श्री नकवी ने सोमवार को नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष खयाली राम लोधी के शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित करते हुये कहा कि पिछले सात वर्षों में मोदी सरकार का फोकस गरीब और कमजोर तबकों का सम्मान और सशक्तिकरण रहा है। सरकार के फैसलों ने ‘पॉलिसी पैरालेसिस की बीमारी’ से देश को मुक्त कराया है। पारदर्शी एवं परिणाम पूरक शासन व्यवस्था ने ‘सत्ता के दलालों की नाकेबंदी और लूट लॉबी पर तालेबंदी’ की है।

उन्होने कहा कि मोदी सरकार ने गरीबों, कमजोर तबकों की ‘आंखों में खुशी और जिंदगी में खुशहाली’ सुनिश्चित करने के लिए कई बड़े कदम उठाए। पिछले सात वर्षों में दो करोड़ 30 लाख गरीबों को घर दिया गया। 11 करोड़ 23 लाख किसानों को किसान सम्मान निधि के तहत लाभ दिया। आठ करोड़ से ज्यादा महिलाओं को “उज्ज्वला योजना” के तहत निशुल्क गैस कनेक्शन दिया। 30 करोड़ लोगों को “मुद्रा योजना” के तहत व्यवसाय सहित अन्य आर्थिक गतिविधियों के लिए आसान ऋण दिए गए।

दशकों से अँधेरे में डूबे हजारों गांवों में बिजली पहुंचाई गयी वहीं फसल बीमा योजना का लाभ 9 करोड़ किसानों को दिया गया। सरकार ने लगभग सभी फसलों के एमएसपी में बड़ी वृद्धि की। छह लाख से अधिक गांवों को खुले में शौच से मुक्त किया गया। 42 करोड़ 55 लाख जरूरतमंदों को प्रधानमंत्री जन धन योजना का लाभ मिला है। देश भर में 11 करोड़ 40 लाख शौचालयों का निर्माण किया गया है। जन आरोग्य योजना के तहत लगभग 2 करोड़ लोगों को निशुल्क चिकित्सा सुविधा दी गई है।

श्री नकवी ने कहा कि मोदी सरकार की हर विकास योजना,‘समावेशी सोंच, सर्वस्पर्शी सशक्तिकरण’ के संकल्प से भरपूर रही है जिसका लाभ समाज के सभी हिस्सों को हुआ है। ‘सम्मान के साथ सशक्तिकरण’, ‘बिना तुष्टीकरण के सशक्तिकरण’ के संकल्प के साथ मोदी सरकार ने ‘रिफॉर्म, परफॉर्म, ट्रांसफॉर्म’ की नीति के जरिये समाज के हर तबके को तरक्की का बराबर का हिस्सेदार-भागीदार बनाया है। मोदी सरकार ‘गांव, गरीब, किसान, नौजवान, झुग्गी-झोपडी के इंसान’ के हितों को समर्पित सरकार है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि जिस समय कोरोना की पहली लहर भारत में आई थी, हमारे देश में पीपीई किट, वेंटीलेटर, कोरोना डेडिकेटेड हॉस्पिटल, कोरोना टेस्टिंग लैब,वैक्सीनेशन आदि की पर्याप्त सुविधाएँ, संसाधन नहीं थे। लगभग एक वर्ष के अंदर ही आज भारत कोरोना टेस्टिंग किट, डेडिकेटेड कोरोना अस्पताल, डेडिकेटेड कोरोना हेल्थ सेंटर, आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड, एन-95 मास्क का उत्पादन, पीपीई किट का निर्माण, मेडिकल ऑक्सीजन, वेंटीलेटर का उत्पादन हो, वैक्सीन हो, भारत आत्मनिर्भर हो गया है।

श्री नकवी ने कहा कि ‘जान है तो जहान है’ के संकल्प के साथ केंद्र में मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने इस चुनौतीपूर्ण वक्त में काम किया है।

उन्होने कहा कि मोदी सरकार ने कोरोना की चुनौतियों के दौरान 80 करोड़ लोगों को एक वर्ष से ज्यादा समय तक मुफ्त अनाज दिया । इसे जारी रखते हुए ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ के तहत पुनः 80 करोड़ जरूरतमंदों को प्रति माह प्रति व्यक्ति 5 किलो निशुल्क अनाज दिया जा रहा है। संकट के समय 8 करोड़ परिवारों को निशुल्क गैस सिलिंडर दिया गया है। 20 करोड़ महिलाओं के जन धन खाते में 1500 रूपए दिए गए हैं। किसान सम्मान निधि का लाभ 10 करोड़ से अधिक किसानों को दिया गया है। आत्मनिर्भर पैकेज के तहत कृषि क्षेत्र के लिए 1 लाख करोड़ रूपए की व्यवस्था की गई। डेरी से फेरी वालों, किसान से मजदूर तक की चिंता की गयी है।