breaking news New

तूफान यास' का रौद्र रूप..140 किमी प्रति घण्टे की रफतार से आया यास..सड़कें टूटी..चेकपोस्ट हवा में उड़े..पत्तों की तरह उड़े पेड़..बंगाल में एक करोड़ लोग प्रभावित..झारखंड में भारी बारिश..देखें तस्वीरें और वीडियो

तूफान यास' का रौद्र रूप..140 किमी प्रति घण्टे की रफतार से आया यास..सड़कें टूटी..चेकपोस्ट हवा में उड़े..पत्तों की तरह उड़े पेड़..बंगाल में एक करोड़ लोग प्रभावित..झारखंड में भारी बारिश..देखें तस्वीरें और वीडियो

चक्रवाती तूफान यास ने लैंडफाॅल की प्रक्रिया पूरी कर ली है और अब यह कमजोर पड़कर बहुत ही गंभीर चक्रवाती तूफान से गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है. इसके प्रभाव से ओडिशा, बंगाल और झारखंड में तेज बारिश हो रही है. ओडिशा के बालासोर के तटीय इलाकों में हुआ लैंडफाॅल.    

मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान अब ओडिशा को क्राॅस कर रहा है और यह झारखंड की तरफ बढ़ रहा है जिसके प्रभाव से झारखंड में 26 और 27 मई को भारी बारिश होगी. बिहार और यूपी में भी 27 मई को बारिश होगी. ओडिशा और बंगाल के मछुआरों को समुद्र में अभी ना जाने की सलाह दी गयी है क्योंकि दो-तीन मीटर ऊंचाई की समुद्री लहरें उठ रही हैं.



चक्रवाती तूफान ने भयंकर तबाही की है जिसके बाद एनडीआरएफ और फायर टीम बचाव कार्य में जुट गयी है. कई जगहों पर पेड़ जड़ से उखड़ गये हैं और रोड जाम है, इन पेड़ों को सड़क से हटाने का काम जारी है. लैंडफाल के वक्त समुद्र का पानी रिहायशी इलाकों में घुस गया.

लैंडफाॅल की प्रक्रिया पूरी हो गयी है लेकिन तेज बारिश जारी है जिसके कारण मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर रखा है. ओडिशा के भद्रक जिले में भारी बारिश के कारण कई जगहों पर सड़कें टूट गयी हैं, जिसे ठीक करने का काम जारी है.

लैंडफाॅल के कारण कई नाव और दुकानें क्षतिग्रस्त हो गयीं. बंगाल ओडिशा की सीमा पर हवाओं ने चेकपोस्ट की बैरिकैडिंग को उड़ा दिया. इस दौरान 130-140 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं. कई जगहों पर 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भी हवाएं चलीं.

देखें तस्वीरें और वीडियो :