breaking news New

राज्य स्तरीय तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन, प्रख्यात गांधीवादी डॉ. सुब्बाराव को श्रंद्धाजलि

राज्य स्तरीय तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन, प्रख्यात गांधीवादी डॉ. सुब्बाराव को श्रंद्धाजलि


*चिंतन शिविर में कुल 28 कार्यक्रम अधिकारियों ने हिस्शा लिया जिसमे 16 महिला तथा 12 पुरुष एवं 14 छात्र और 14 छात्राओं ने भाग लिया *

सभी ने अपने अपने विचार रखे 

 प्रयोग आश्रम तिल्दा जिला रायपुर छत्तीसगढ़ में 

तिल्दा नेवरा .चिंतन शिविर का आयोजन किया गया है इस आयोजन का उद्देश्य समाज की आवश्यकता के अनुरूप बदलते प्रतिमान एवं मूल्यों को लेकर एनएसएस की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए नियमों में कुछ बदलाव और कुछ  नवाचार को जोड़ने पर विचार किया जा रहा है l इस शिविर में पुरस्कार एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के विभिन्न आयाम के बारे में चर्चा की गई l 


डॉ समरेंद्र सिंह द्वारा कार्यक्रम अधिकारियों के चयन तथा उनके द्वारा कर्तव्य निर्वहन के विषय में चर्चा की गई l राष्ट्रीय सेवा योजना में निस्वार्थ भाव से किस प्रकार सेवा की जा सकती है इस पर भी चर्चा की गई l मनुष्य अध्यात्म की ओर कैसे आकृष्ट होता है और एक निश्चित समय पश्चात उन्हें ज्ञान की प्राप्ति किस प्रकार से होती है इस पर भी चिंतन किया गया l 

 सुपर 70 प्रतिभागियों की उपस्थिति में में संपन्न किया जा रहा है। चिंतन शिविर में उपस्थित कार्यक्रम अधिकारियों एवं स्वयंसेवकों के द्वारा अपने अनुभव साझा किए गए, स्वयंसेवकों ने बताया कि किस प्रकार उन्हें अपने आपको जानने का अवसर इस शिविर के माध्यम से प्राप्त हुआ l इस चिंतन शिविर में छत्तीसगढ़ के संस्कृति के बारे में जानने के उद्देश्य से एक साथ भी उसी मोबाइल कैंप करने का प्रस्ताव भी सभी के समक्ष रखा गया उसके पश्चात चिंतन शिविर में उपस्थित समन्वयक जिला संगठक तथा कार्यक्रम अधिकारियों एवं स्वयंसेवक स्वयं सेविकाओं को राज्य संपर्क अधिकारी के द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया !


-

 बाइट -- डॉ समरेंद्र सिंह  ---राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य अधिकारी 

-- बाइट -- बस्तर विश्व विद्यालय की छात्रा 

-- बाइट --  पंडित रविशंकर विश्व विद्यालय का छात्र 

-- बाइट -- डॉ नीता बाजपेई कार्यक्रम समनवयक  अधिकारी