breaking news New

छत्तीसगढ़ में जनता के अभिव्यक्ति की आजादी को कुचलने का प्रयास

छत्तीसगढ़ में जनता के अभिव्यक्ति की आजादी को कुचलने का प्रयास

लोकतंत्र की रक्षा में भाजपा करेगी जेल भरो आंदोलन

बेमेतरा। भारतीय जनता पार्टी के बेमेतरा जिला के वरिष्ठ नेताओं द्वारा बेमेतरा के स्थानीय फूड प्लाजा में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई थी जिसमें वर्तमान में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा सार्वजनिक रूप से धरना प्रदर्शन जुलूस इत्यादि पर 19 बिंदुओं पर प्रतिबंध लगाया गया है !

अतः किसी प्रकार के प्रदर्शन विरोध इत्यादि के लिए जिला कलेक्टर से पहले 19 प्रकार के बिंदुओं को मानने का प्रावधान सुनिश्चित करते हुए अनुमति ली जानी है जिसके विरोध में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश नेताओं एवं कार्यकर्ताओं द्वारा छत्तीसगढ़ सरकार को 15 दिन का समय दिया है !


जिसमें कहा है कि इस प्रकार के कानून अथवा प्रतिबंध को सरकार वापस ले अन्यथा सभी जिलों में जेल भरो आंदोलन जैसे उग्र विरोध प्रदर्शन जिसमें 5000 से अधिक की संख्या होने का दावा भाजपा के स्थानीय नेता कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी का प्रदेश के भूपेश सरकार के ऊपर बड़ा आरोप यह है कि सरकार लोगों से अभिव्यक्ति की आजादी छीनने का प्रयास कर रही है और सरकार अपनी विफलताओं को छुपाने का भरसक प्रयास कर रही है इसलिए मीशा बंदी जैसे कानून पहले जो सरकार लगा चुकी है उसी को अब छत्तीसगढ़ में अनुपालन करवाने का प्रयास कर रही है।

 इन शर्तों का पालन करते हुए धार्मिक राजनीतिक सामाजिक आयोजन संभव ही नहीं है अतः सीधे रूप में सरकार यह चाहती है कि जिन संगठनों के विरोध प्रदर्शन में असहमति की आवाज हो अथवा विपक्ष को, धार्मिक भावनाओं को, अभिव्यक्ति की आजादी को कुचल देंने की कांग्रेस का ऐसा इतिहास रहा है।

आपातकाल लगाकर उन्होंने हमें जीने तक के अधिकार से वंचित किया था। ऐसे समय पर जब कांग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश के किसान, युवाओं के साथ धोखा हुआ है, जब शिक्षा कर्मी, विद्या मितान, पुलिस भर्ती, बिजली कर्मचारी, कोरोनावायरस, आदिवासी महिला, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सभी अपनी अपनी मांगों को लेकर आंदोलित हैं और प्रदर्शन के दौरान अपनी जान दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ की सरकार इन विषयों में समाधान खोजने के बजाय तथा लोगों को न्याय देने के बदले सरकार उनकी जुबान बंद करने पर उतारू है।

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने सरकार को चेतावनी  प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से देने का प्रयास किया और कहा कि सरकार 15 दिन के अंदर में इन विषयों को गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए इस तरह के प्रतिबंध को हटाए अन्यथा भारतीय जनता पार्टी जिला स्तर पर 5000 के अधिक संख्या को लेकर धरना तथा विरोध प्रदर्शन करते हुए जेल भरो आंदोलन तक की बात कही है।

आज के प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूर्व मंत्री दयालदास बघेल पूर्व संसदीय सचिव एवं पूर्व विधायक लाभचंद बाफना तथा पूर्व विधायक अवधेश चंदेल मोंटी साहू तथा निखिल, संध्या परगनिया आदि उपस्थित थे तथा उन्होंने अपना संयुक्त रुप से अपनी बात प्रेस के समक्ष रखी !