चुनाव को लेकर विवादों में रहे गुजरात के शिक्षा-मंत्री को सर्वश्रेष्ठ विधायक पुरस्कार

चुनाव को लेकर विवादों में रहे गुजरात के शिक्षा-मंत्री को सर्वश्रेष्ठ विधायक पुरस्कार

गांधीनगर।  बेहद नज़दीकी अंतर वाली अपनी चुनावी जीत को लेकर विवादों में आए गुजरात के शिक्षा मंत्री तथा अहमदाबाद ज़िले की धोलका सीट से सत्तारूढ़ भाजपा के विधायक भूपेन्द्रसिंह चूड़ासमा को वर्ष 2020 के लिए राज्य का सर्वश्रेष्ठ विधानसभा सदस्य चुना गया है।

इसके साथ ही छोटा उदेपुर सीट से कांग्रेस विधायक मोहनसिंह राठवा को 2019 के लिए सर्वश्रेष्ठ विधानसभा सदस्य चुना गया है।

दोनो के नाम की घोषणा आज सदन के मौजूदा मानसून सत्र के चौथे दिन विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने की। उन्हें चाँदी का बना स्मृति चिन्ह और प्रशस्ति पत्र दिया गया।

ज्ञातव्य है कि राठवा अब तक 10 बार विधायक रह चुके हैं। कई बार विधायक और मंत्री रहे चूड़ासमा के 2017 में पिछला चुनाव मात्र 327 मतों के अंतर से जीतने और कथित तौर पर इससे अधिक संख्या में पोस्टल बैलट मतों को ग़लत तरीक़े से नष्ट करने को उनके निकटम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के अश्विन राठौड़ ने चुनौती दी थी और गुजरात हाई कोर्ट ने गत मई माह में उनके निर्वाचन को रद्द कर दिया था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने इस पर रोक लगायी और अब मामला वहां विचाराधीन है। उनके विरोधी राज्य में स्कूलों की फ़ीस के नियमन सम्बंधी क़ानून को लागू करने के मामले में भी उनके कथित ढुलमुल रवैए की कटु आलोचना करते रहे हैं।